Nylon Manja
File Photo

  • रायुकां ने की जागरूकता रैली

नागपुर. जानलेवा नायलॉन मांजा की बिक्री और उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध के बावजूद भी लोग इसे चोरी छिपे बेच रहे हैं और पतंगबाजी भी कर रहे हैं. जिसके चलते शहर में कई जानलेवा दुर्घटनाएं हो रही हैं. नायलॉन मांजा के उपयोग को रोकने के लिए रायुकां की ओर से जागरूकता रैली निकाली गई. रैली सक्करदरा चौक से शुक्रवारी रोड तक निकाली गई. जिसमें नागरिकों, दूकानदारों को नायलॉन मांजा से होने वाले नुकसान के बारे में जानकारी दी गई और इस्तेमाल नहीं करने की अपील की गई.

शहर प्रवक्ता श्रीकांत शिवणकर और नगरसेवक अशोक काटले के नेतृत्व में निकाली गई रैली में अध्यक्ष शैलेन्द्र तिवारी, महिला अध्यक्ष लक्ष्मी सावरकर, रवि पराते, महबूब पठान, एकनाथ फाल्के, अजहर पटेल, आदित्य मेंढेकर, इंदिर सैनी सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल हुए.

100 हुए थे घायल

शिवणकर ने बताया कि पिछले वर्ष मकर संक्रांति के समय नायलॉन मांजे से करीब 100 लोग गंभीर घायल हुए थे. बड़ी संख्या में पक्षियां, मवेशियां भी घायल होते हैं और उनकी जान भी जाती है. इस संदर्भ में रायुकां ने गृह मंत्री को पत्र देकर प्रतिबंधित नायलॉन मांजे की बिक्री करने और उपयोग करने वाले के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करने की मांग की है. आईपीसी की धारा 304, 336, 337, 338 के तहत कानून बनाने की मांग की गई है.