haryana woman locked in toilet by husband for over a year

चंडीगढ़. हरियाणा (Haryana) के पानीपत जिले (Panipat) के एक गांव में स्तब्ध करने वाली घटना सामने आई है जहां पर एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी को करीब एक साल से शौचालय (Toilet) में बंद रखा था। आरोपी का कहना है कि पत्नी को मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समस्या है जिसकी वजह से उसने यह कदम उठाया।

पुलिस ने बृहस्पतिवार को बताया कि तीन बच्चों (क्रमश: 11,15 और 16 साल के) की मां करीब एक साल से अमानवीय हालत में शौचालय में बंद करके रखी गई थी और मंगलवार को उसे मुक्त कराया गया। सूचना मिलने के बाद महिला को जिला महिला और बाल कल्याण विभाग के अधिकारियों ने पुलिस की मदद से मंगलवार को पानीपत के ऋषिपुर गांव से मुक्त कराया।

पानीपत के सनोली पुलिस थाने के प्रभारी सुरेंद्र दहिया ने बताया, “महिला को शौचालय में बंद करके रखा गया था। जब इसकी वजह के बारे में पति नरेश कुमार से पूछा गया तो उसने दावा किया कि महिला को गत तीन साल से मानसिक स्वास्थ्य की समस्या है। नरेश कुमार को गिरफ्तार कर लिया गया है।”

दहिया ने कहा कि कुमार के खिलाफ पत्नी से क्रूरता करने और अवैध रूप से बंद कर रखने के आरोप में भारतीय दंड संहिता की धारा-498 ए और 342 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। हरियाणा राज्य महिला आयोग की टीम ने बुधवार को पानीपत जाकर महिला का हालचाल जाना। थाना प्रभारी ने बताया कि दंपति की कई साल पहले शादी हुई थी और दोनों के तीन बच्चें हैं जिनमें से दो बेटियां हैं।

उन्होंने बताया कि शुरुआती जांच में खुलासा हुआ कि महिला को ठीक से खाना भी नहीं दिया जाता था जिससे वह बहुत कमजोर हो गई है। दहिया ने बताया कि मुक्त कराई गई महिला का स्थानीय अस्पताल में दो बार चिकित्सा परीक्षण किया गया है और अधिकारी मानसिक स्वास्थ्य सहित विस्तृत जांच के लिए उसे पीजीआईएमएस रोहतक लेकर जाएंगे। (एजेंसी)