तेजप्रताप हसनपुर तो तेजस्वी राघोपुर से लड़ेंगे चुनाव 

पटना: लालू प्रसाद यादव (lalu Prasad Yadav) के बड़े बेटे और राष्ट्रीय जनता दल (Rashtriya Janta Dal) के नेता तेज प्रताप यादव (Tej Pratap yadav) ने आगामी विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) में वैशाली जिले के महुआ सीट को छोड़ कर हसनपुर से लड़ने की तैयारी कर ली है. वहीं उनके भाई तेजस्वी यादव (Tejasvi Yadav) अपनी पुरानी सीट राघोपुर से चुनाव लड़ेंगे. सोमवार को को तेजप्रताप को उनकी मां राबड़ी देवी से छोटे भाई तेजस्वी की मौजूदगी में हसनपुर सीट के लिए पार्टी सिंबल मिला था, जिसकी तस्वीरें फेसबुक पर पोस्ट की गई थीं.

मंगलवार को नामांकन दाखिल करेंगे  

दूसरे चरण के लिए अधिसूचना जारी हो चुकी है और नामांकन दाखिल किया जा रहा है. राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के सूत्रों ने कहा कि महुआ के मौजूदा विधायक तेज प्रताप के मंगलवार को नामांकन दाखिल करने की संभावना है, जबकि उनके छोटा भाई अगले दिन नामांकन दाखिल करेंगे गए.

तेजप्रताप के सामने जेडीयू का विधायक

राजद अध्यक्ष के बड़े बेटे हसनपुर में जदयू विधायक राज कुमार रे का सामना करेंगे. दूसरी ओर, तेजस्वी को भाजपा के सतीश कुमार के खिलाफ खड़ा किया गया है,  2010 के चुनाव में सतीश कुमार ने इसी सीट पर राबड़ी देवी को हराया था.

ऐश्वर्या महुआ से लड़ सकती है चुनाव

मीडिया के एक वर्ग ने दावा किया कि तेजप्रताप, जो विधायक चंद्रिका राय की बेटी ऐश्वर्या के साथ वैवाहिक विवाद में उलझे हुए हैं, इस लिए महुआ सीट से बाहर जाने का फैसला किया, वह उनके खिलाफ चुनाव मैदान में उतर सकती हैं. राय, जो हाल ही में जद (यू) में शामिल हुए थे, परसा सीट से मौजूदा विधायक हैं. राय परिवार को महुआ में भी काफी समर्थन मिलता है, जो कि परसा के करीब है.

पूरा बिहार में लालू जी का ‘कार्य क्षेत्र  

जिसपर राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने इस दावे को खारिज कर दिया और कहा कि,” तेज प्रताप ने लोगों द्वारा किए जा रही मांग को लेकर हसनपुर से मैदान में उतरने का फैसला किया.”  तिवारी ने कहा, “पूरा बिहार में लालू जी का ‘कार्य क्षेत्र’ (कार्य स्थल) है. उनका परिवार कहीं से भी चुनाव लड़ सकता है और जीत हासिल कर सकता है.”