Pawan Khera
Congress spokesperson Pawan Khera (Photo courtesy: social media)

पटना. कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए शुक्रवार को कहा कि बिहार की जनता बहुत समझदार है और यहां न तो झूठ चलेगा और न ही जुमले बिकेंगे। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा ने शुक्रवार को पत्रकारों को संबोधित करते हुए बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा के उस नारे कि “भाजपा है तो भरोसा है” पर कटाक्ष करते हुए कहा कि हर चुनाव में उन्होंने नया जुमला परोसा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुनावी रैली पर कटाक्ष करते हुए खेडा ने कहा, “मोदी जी के चेहरे पर नीतीश बाबू की थकान दिखाई दे रही थी और नीतीश बाबू के चेहरे पर मोदी जी की थकान दिख रही थी। जाहिर सी बात है मोदी जी हर राज्य में जाकर आखिर कितने जुमले परोस पाएंगे, वहीं नीतीश बाबू एक ही राज्य में कितनी बार झूठ एवं वादा खिलाफी करेंगे। आज न तो तालियों की गड़गड़हट थी और न भीड़ और न मोदी जी एवं नीतीश जी के लिए कोई चाहत थी। ये आने वाले बदलाव की पहली आहट थी।”

उन्होंने कहा, “हमें उम्मीद थी कि ज्ञान एवं मोक्ष की इस पावन भूमि बिहार में वह बिहारवासियों से माफ़ी मांगेंगे। पिछले पांच सालों में बिहार की जनता के साथ धोखा किया, मजदूरों के साथ जो बर्ताव किया, नौजवान का जो हश्र किया, किसान के साथ जो गद्दारी की और यहाँ तक कि बिहार के वीर जवान के साथ विश्वासघात किया। आज मोदी जी को हाथ जोड़कर एक-एक बिहारवासी से माफ़ी मांगनी चाहिए थी। लेकिन अहंकार के घोड़े पर सवार मोदी जी जहाँ जाते हैं, झूठ का सहारा लेकर तालियां बटोरने की हिम्मत दिखाते हैं”।

गलवान घाटी में शहीद हुए बिहार के वीर सपूतों का प्रधानमंत्री द्वारा जिक्र किये जाने पर खेडा ने कहा कि इस प्रदेश के सपूतों का असली सम्मान तो तब हो जब मोदी चीन से भारत की 1200 किलोमीटर जमीन वापस लें और चीन को भारत भूमि से खदेड़ दें। उन्होंने आरोप लगाया कि चीन को क्लीन चिट देकर तो मोदी ने बिहार के, भारत माता के 20 बहादुर शहीद सपूतों का अपमान किया है।

खेडा ने आरोप लगाया कि पीएम केयर्स फण्ड में चीनी कंपनियों से करोड़ों रुपए चंदा स्वीकार कर मोदी ने देश के प्रति खुद की निष्ठा और शहीद जवानों के बलिदान का मजाक उड़ाया है। उन्होंने कहा कि आज की रैली में मोदी सरकारी नौकरियों में होने वाली भर्ती घोटाले का जिक्र कर रहे थे और सही मायनों में घोटालों का जिक्र जरूरी था। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में जितनी भी सरकारी नौकरी में भर्ती हुई है, उन सभी में जमकर घोटाला हुआ है।

बीपीएससी परीक्षा घोटाला, दरोगा भर्ती घोटाला और एसएससी इंटर स्तरीय परीक्षा को तो धांधली की वजह से निरस्त कर दुबारा कराने की नौबत आ गई। 2014 में शुरू हुई यह प्रतियोगी परीक्षा आज तक पूरी नहीं हो पाई है। खेडा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पिछले विधानसभा चुनावों में जब बक्सर में रैली को संबोधित कर रहे थे, तब भी उन्होंने चौसा में पॉवर प्रोजेक्ट का एलान किया था और आज की रैली में वह इसे फिर से दोहरा रहे थे,तो राजग की इस तथाकथित डबल इंजन सरकार ने इस कार्यकाल में चौसा पॉवर प्रोजेक्ट के लिए क्या किया है ? (एजेंसी)