suvendu

 हल्दिया (प बंगाल). ममता सरकार (Mamta Banerjee) में मंत्री शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adikari) ने बुधवार को कहा कि वह कड़ी मेहनत से ऊंचाई पर पहुंचे हैं और किसी ने न उनका चयन किया है न नामित किया है बल्कि वह एक निर्वाचित नेता हैं। अधिकारी पिछले कुछ समय से सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (TMC Congress) और राज्य मंत्रिमंडल से दूरी बनाकर चल रहे हैं। उनका यह बयान पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों को रास नहीं आया है।

अधिकारी, राज्य के मिदनापुर और जनजातीय क्षेत्र जंगलमहल में तृणमूल के सबसे प्रभावशाली नेताओं में से एक हैं। उन्होंने यहां एक सहकारी द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि उन्हें इसका अध्यक्ष निर्वाचित किया गया है और वह दूसरों की तरह चयनित या नामित नेता नहीं हैं। पार्टी में बहुत से लोगों का मानना है कि उनका यह बयान तृणमूल के एक वरिष्ठ नेता और सांसद को लक्षित था।

उन्होंने कहा, “मैं कड़ी मेहनत से ऊंचाई तक पहुंचा हूं। मैं निर्वाचित नेता हूं। मैं चयनित या नामित नेता नहीं हूं।” अब सभी की नजरें जिले में बृहस्पतिवार को होने वाली रैली पर टिकी हैं। पूर्वी मिदनापुर के तृणमूल नेता अखिल गिरी ने कहा कि अधिकारी को बताना चाहिए कि वह किसके बारे में बात कर रहे हैं।