Vaccination
File Photo

    पुणे. कोरोना टीकाकरण (Corona vaccination) के तीसरे चरण में 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों और किसी दूसरी बीमारी से ग्रसित 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों को कोरोना वायरस रोधी टीका सरकारी केंद्रों (Government Centers)पर निशुल्क (Free) लगाया जा रहा है। वहीं, निजी क्लिनिकों (Private Clinics) एवं केंद्रों पर उन्हें इसके लिए शुल्क (Fee) देना पड़ेगा। पुणे (Pune) में भी तीसरे चरण का टीकाकरण भी शुरू हो गया है। 

    इसके लिए पुणे में पहले 13 टीकाकरण केंद्र शुरू किए गए थे। बाद में बढ़ाकर इसे 69 किया था। अब यह संख्या 98 तक बढ़ाई है। ऐसी जानकारी महानगरपालिका अतिरिक्त आयुक्त रूबल अग्रवाल ने दी। 

    1 मार्च से शुरु किया गया है तीसरा चरण

    टीकाकरण के लिए पंजीकरण शुरू हो गया है। कोरोना के खिलाफ टीका चार चरणों में दिया जाएगा। पहले चरण में सरकारी और निजी चिकित्सा अधिकारियों, नर्सों, वार्डबॉय और सुरक्षा गार्डों को को टीका लगाने के बाद दूसरे चरण में महानगरपालिका, पुलिस बल, होमगार्ड अधिकारी और नागरिक सुरक्षा बल के अधिकारी और कर्मचारियों के लिए टीकाकरण शुरू किया गया। अब तीसरे चरण में बीमारी से पीड़ित व्यक्ति (45 वर्ष से अधिक आयु वाले) और 60 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ व्यक्ति और इसके बाद चौथे चरण में सभी आम जनता को टीका लगाया जाएगा। कोविड-19 टीकाकरण अभियान का तीसरा चरण 1 मार्च से शुरू किया गया है। 

    निजी और सरकारी अस्पतालों में सुविधा  

    कोरोना वैक्सीन केवल रोग से पीड़ित व्यक्तियों (45 वर्ष से ऊपर) और 60 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ व्यक्तियों को दी जाएगी। बीमार के लिए पंजीकृत मेडिकल पेशेवर से चिकित्सा प्रमाणपत्र प्राप्त करना अनिवार्य होगा। संबंधित व्यक्ति को जन्म प्रमाण पत्र, पैन कार्ड, आधार कार्ड, टीकाकरण पंजीकरण के लिए पासपोर्ट लाना अनिवार्य होगा। निजी टीकाकरण केंद्र में टीकाकरण के लिए 150 रुपए और प्रशासनिक खर्च के लिए 100 रुपए प्रति खुराक के लिए कुल 250 रुपए का भुगतान करना होगा। इसके लिए पुणे में पहले 13 टीकाकरण केंद्र शुरू किए गए थे। बाद में बढ़ाकर इसे 69 किया था। अब केंद्रों की संस्ख्या 98 तक बढ़ाई गई है। ऐसी जानकारी महानगरपालिका अतिरिक्त आयुक्त रूबल अग्रवाल ने दी। इससे पुणेवासियों को राहत मिलेगी, ऐसा माना जा रहा है।