Cricket
File Photo

सूरत पुलिस सपना को हिमाचल प्रदेश से गिरफ्तार करके लाई है।

    नई दिल्ली, आज हर कोई क्रिकेट (Cricket) में रूचि रखता है। युवा पीढ़ी भी क्रिकेट में आप करियर बनाने के लिए अपनी जी जान कोशिश करती है। कुछ लोग अपनी कड़ी मेहनत से क्रिकेट में करियर बनाना चाहते है, तो कुछ लोग पैसे देकर क्रिकेट का हिस्सा बनना चाहते है। लेकिन, कभी-कभी पैसे देने के बावजूद भी लोगों का क्रिकेट में करियर बनाने का सपना पूरा नहीं होता।

    ऐसा ही एक मामला गुजरात (Gujrat) के सूरत (Surat) से सामने आया है। यहां एक क्रिकेटर ने रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) मैच खेलने की लालच में एक पूर्व रणजी ट्रॉफी खिलाड़ी को 27 लाख रुपए दे दिए। लेकिन, इसके बावजूद क्रिकेटर को मैच खेलने का मौका नहीं मिला। 

    दरअसल, सूरत में रहने वाले भाविक पटेल ने रणजी ट्रॉफी मैच खेलने के लिए हिमाचल प्रदेश की पूर्व रणजी ट्रॉफी खिलाड़ी सपना रंधावा (Sapna Randhawa) को 27 लाख रुपए दे दिए। इसके बाद भी उन्हें मैच में अपना हुनर दिखाने का मौका नहीं मिला। इसके बाद यह मामला पुलिस के पास पहुंचा, जिसके बाद पुलिस ने ठगी का मामला दर्ज करते हुए सपना रंधावा को गिरफ्तार कर लिया है। सूरत पुलिस सपना को हिमाचल प्रदेश से गिरफ्तार करके लाई है। 

    भाविक और सपना की मुलाकात साल 2018 में क्रिकेट टूर्नामेंट के दौरान राम चौहान नाम के खिलाड़ी के माध्यम से उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुई थी।‌ राम चौहान ने भाविक पटेल को बताया था कि, सपना रंधावा नाम की खिलाड़ी उनका क्रिकेट मैच खेलने का सपना पूरा कर सकती है। वहीं, सपना रंधावा ने भी भाविक पटेल को आश्वासन दिया कि वो उन्हें रणजी ट्रॉफी मैच में खिलवाने की व्यवस्था कर देंगी, जिसके बदले सपना ने भाविक से रुपयों की मांग की। सपना ने पहले भाविक से 12 लाख 10 हजार रुपए लिए थे, जिसके बाद वो रुपए सपना ने किसी और को दे दिए।

    इसके बाद भाविक को नागालैंड की तरफ से मैच खिलवाने का आश्वासन देते हुए एक दूसरे व्यक्ति ने उससे  15 लाख रुपए लिए थे। हालांकि, पुलिस ने इस दूसरे व्यक्ति की खोजबीन शुरू कर दी है। सूरत के पुलिस कमिश्नर अजय कुमार तोमर ने बताया कि, सपना और उस दूसरे व्यक्ति ने मिलकर भाविक के अलावा करीब 20 खिलाड़ियों से क्रिकेट में करियर बनाने के नाम पर 75 लाख रुपए ठगे हैं। पुलिस कमिश्नर के मुताबिक ये लोग क्रिकेट में नेशनल लेवल पर करियर बनाने के नाम पर लोगों को ठग रहे थे, जिसे लेकर क्रिकेट एसोसिएशन के साथ सूरत पुलिस संपर्क में है।

    बता दें कि, गिरफ्तार की गई सपना रंधावा हिमाचल प्रदेश की तरफ से रणजी ट्रॉफी मैच खेल चुकी हैं। वह अभी क्रिकेट कोचिंग के साथ जुड़ी हुई हैं।