टी20 विश्व कप में अगर मंडराया कोरोना का खतरा तो टूर्नामेंट का क्या होगा? जानें ICC की प्लानिंग

    नई दिल्ली: इस साल आईपीएल (IPL Final) का फाइनल 15 अक्टूबर को खेला जाएगा। उसके तुरंत बाद ही संयुक्त अरब अमीरात (UAE) और ओमान (Oman) में 17 अक्टूबर से टी20 विश्व कप (T20 World Cup 2021) शुरू होने वाला है। इस मैच पर हर किसी की नज़रें टिकी होगी। इस बार के विश्व कप के लिए भारत (Indian Cricket Team) को प्रबल दावेदार माना जा रहा है। लेकिन, ऐसी कई टीमें हैं जो भारत के राह का कांटा बन सकती है। 

    ICC की परेशानी 

    अब इसी बीच ICC के लिए एक और परेशानी वाली बात कोरोना भी है। जिसे नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता। दरअसल, यह वर्ल्ड कप पहले भारत में होना था, लेकिन बढ़ते कोरोना के मामले को देखते हुए इसे UAE में शिफ्ट किया गया।

    इन सवालों का ICC ने दिया जवाब 

    ऐसे में ICC कोविड का खतरा टाल नहीं सकता, लेकिन इससे बचने के सारे मुमकिन कोशिश में वह लगा हुआ है। लेकिन, फिर भी अगर दुर्भाग्य से कोरोना का कोई मामला टी20 विश्व कप में खलल डालता है तो फिर क्या होगा।? यह बड़ा सवाल हर एक के मन में है। अगर कुछ ऐसा होता है तो ICC  क्या फैसला लेगी, क्या मैच रद्द कर दिए जाएंगे या फिर टी20 को ही रद्द कर दिया जाएगा। ऐसे कई सवालों ने लोगों की चिंता बड़ा रखी है। ऐसे ICC  ने इन सभी सवालों का जवाब दिया है। 

    समिति लेगी फैसला

    आईसीसी के अंतरिम मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) ज्योफ अलार्डिस ने कहा है कि अगर किसी टीम में कोविड-19 मामला सामने आता है तो किसी भी मैच पर फैसला करने का अधिकार आईसीसी द्वारा गठित समिति का होगा। इससे उन्होंने स्पष्ट किया है कि द्विपक्षीय मुकाबलों की तरह कोई भी सदस्य देश इस संबंध में फैसला नहीं कर सकता। आईसीसी ने पहले ही एक चिकित्सीय विशेषज्ञों की समिति बना दी है जिसमें बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट बोर्ड) के डा। अभिजीत साल्वी भी शामिल हैं। 

    भागीदार देशों को नहीं होगा अधिकार 

    अलार्डिस ने कहा है कि अगर ऐसा कोई भी मामला सामने आता है तो किसी भी मैच का फैसला समिति लेगी। मैचों के संबंध में कोई भी फैसला उस समिति द्वारा ही लिया जाएगा। कोई भी देश द्वारा लिए गए फैसले अमान्य होगा। इन सबके अलावा इस बार के टी20 वर्ल्ड कप में हर टीम के पास अपनी पारी में दो बार DRS  लेने की भी