cricket

मेलबर्न,  भारतीय क्रिकेट टीम (Indian cRICKET tEAM) ने दूसरे क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन मंगलवार को लंच के समय आस्ट्रेलिया (Australia) को 200 रन पर आउट करके जीत की ओर कदम बढा दिया है जबकि उसे मात्र 70 रन का लक्ष्य मिला है । अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) की टीम के लिये दूसरे सत्र में जीत औपचारिकता ही लग रही है, मेलबर्न फतह से अब सिर्फ 57 रन दूर है ।

एडीलेड में अपने न्यूनतम स्कोर 36 रन पर आउट होने से मिले जख्मों पर इस जीत से मरहम लगेगा । भारत के लिये जसप्रीत बुमराह ने 27 ओवर में दो और पहला टेस्ट खेल रहे मोहम्मद सिराज ने 21 . 3 ओवर में 37 रन देकर तीन विकेट लिये । दोनों ने अनुशासित गेंदबाजी करते हुए संयम से काम लिया और सपाट पिच पर बहुत प्रयोग की कोशिश नहीं की । रविचंद्रन अश्विन ने 37 . 1 ओवर में 71 रन देकर दो विकेट लिये जबकि रविंद्र जडेजा ने 14 ओवर में 28 रन देकर दो विकेट चटकाये । चोटिल तेज गेंदबाज उमेश यादव की गैर मौजूदगी की उन्होंने बखूबी भरपाई की ।

आस्ट्रेलिया के लिये कैमरन ग्रीन और पैट कमिंस ने सातवें विकेट के लिये 57 रन जोड़े लेकिन दूसरी नयी गेंद का सामना नहीं कर सके । ग्रीन ने 146 गेंद में 45 रन बनाये जबकि कमिंस ने 103 गेंद में 22 रन की पारी खेली । रहाणे ने चौथे दिन सुबह बुमराह से तीन ओवर का स्पैल ही कराया क्योंकि गेंद पुरानी होने से मदद नहीं मिल रही थी । इसके बाद उन्हें हटा दिया ताकि वह दूसरी नयी गेंद से तरोताजा होकर गेंदबाजी कर सके । बुमराह ने कप्तान के फैसले को सही साबित करते हुए दूसरी नयी गेंद से कमिंस का विकेट लिया । उनके बल्ले और जबड़े के बीच उछली गेंद को दूसरी स्लिप में मयंक अग्रवाल ने लपका । ग्रीन ने सिराज को पूल शॉट खेलने का प्रयास किया लेकिन मिडविकेट पर जडेजा ने कैच लपक लिया । इसके बाद सिराज ने नाथन लियोन को विकेट के पीछे ऋषभ पंत के हाथों लपकवाया । पहले सत्र में भारतीयों ने ढीली गेंदें नहीं फेंकी लेकिन आक्रमण खतरनाक भी नहीं दिखा । इसका श्रेय ग्रीन और कमिंस को भी जाता है जिन्होंने कोई जोखिम नहीं लिया । दोनों ने 192 गेंदों में 50 रन की साझेदारी की ।