विराट कोहली के बचाव में उतरे दुनिया के दो महान क्रिकेटर्स, जानिए अब भारत को क्या करना होगा

     विनय कुमार

    इंग्लैंड क्रिकेट टीम के पूर्व धाकड़ बल्लेबाज केविन पीटरसन (Kevin Pietersen) ने आज चारों तरफ से आलोचनाओं से घिरी टीम इंडिया का समर्थन करते हुए कहा कि खिलाड़ी रोबोट नहीं हैं और उन्हें हर समय प्रशंसकों के समर्थन की जरूरत होती है। 

    गौरतलब है की टीम इंडिया ICC T20 World Cup, 2021 के प्वाइंट्स टेबल में पांचवें पायदान पर है और अब सेमीफाइनल का रास्ता लगभग बंद नजर आ रहा है। भारतीय टीम का आगे का रास्ता अन्य टीमों के प्रदर्शन पर टिक गया है। भारतीय टीम के निराशाजनक  प्रदर्शन की वजह से विराटसेना और टीम मैनेजमेंट को देश और दुनिया के करोड़ों प्रशंसकों की कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ा है। इंग्लैंड की तरफ से अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में 104 टेस्ट मैच और 136 वनडे इंटरनेशनल मैच खेलने वाले केविन पीटरसन (Kevin Pietersen) ने भारतीय टीम का बचाव किया है। खास बात ये रही कि उन्होंने करोड़ों प्रशंसकों को उनकी राष्ट्रभाषा हिंदी में मेसेज करते हुए दिल की बात कही।

    पीटरसन ने हिंदी में अपने ऑफिशल ट्वीटर अकाउंट पर लिखा, ‘‘खेल में एक विजेता और एक हारने वाला होता है। कोई भी खिलाड़ी हारने के लिए नहीं खेलता है। अपने देश का प्रतिनिधित्व करना सबसे बड़ा सम्मान है। कृपया महसूस करें कि खेल के लोग रोबोट नहीं हैं और उन्हें हर समय समर्थन की आवश्यकता है।”

    गौरतलब है कि इस ताज़ा वर्ल्ड कप में भारतीय टीम के प्रदर्शन को लेकर कई पूर्व खिलाड़ियों ने भारतीय बल्लेबाजों के शॉट सिलेक्शन के साथ साथ बैटिंग ऑर्डर में अचानक बदलाव पर सवाल उठाए। न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए मैच में रोहित शर्मा (Rohit Sharma) पारी की ओपनिंग करने की बजाय तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने मैदान में उतरे। 

    भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने भी विराटसेना का समर्थन किया। हरभजन सिंह ने अपने ऑफिशल ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट किया, ‘‘अपने खिलाड़ियों को लेकर कड़ा रुख मत अपनाइए। हां हम उन्हें बेहतर क्रिकेट खेलने के लिए जानते हैं। इस तरह के नतीजों के बाद प्लेयर्स खुद आहत होते हैं। लेकिन, इस मैच में न्यूजीलैंड की टीम ने शानदार प्रदर्शन किया और जीत दर्ज की। उन्होंने मैदान पर सभी क्षेत्र में शानदार प्रदर्शन किया।”

    गौरतलब है कि, ‘ICC T20 WORLD CUP, 2021’ टूर्नामेंट में भारत को अभी और 3 मुकाबले खेलने हैं। अफगानिस्तान, स्कॉटलैंड और नामीबिया के खिलाफ अभी मैच बाकी हैं। इस वर्ल्ड कप में सेमीफाइनल की रेस में बने रहने के लिए भारतीय टीम के लिए अब करिश्मा ही मौका दिला सकती है। अब टीम इंडिया को हर हाल में अपने तीनों मैच में जीत दर्ज करनी होगी। इसके अलावा और दूसरी टीमों के जीत और हार के नेट रन रेट के आंकड़ों के नतीजे पर भी निर्भर होना होगा। साथ ही, बचे हुए तीनों मैचों में विपक्षी टीमों को बड़े अंतर से हराना होगा।