टी20 विश्व कप: ऐसा ‘श्राप’ जो 14 साल से है बरकार, विराट कोहली और बाबर आजम भी हो चुके हैं इसके शिकार

    नई दिल्ली: टी20 वर्ल्ड कप 2021 (T20 world Cup 2021) का खिताब ऑस्ट्रेलिया (Australia wins t20 world cup 2021) ने अपने नाम कर लिया है। बीते रविवार को ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड (AUS vs NZ) को आठ विकेट से शिकस्त देकर यह खिताब हासिल कर लिया है। इसी जीत के साथ ऑस्ट्रेलिया पहली बार टी20 वर्ल्ड कप का चैंपियन बना है। वहीं उसकी इस जीत के साथ ही टूर्नामेंट से जुड़ा एक पुराना सिलसिला भी पिछली बार की तरह ही जारी रहा। यह सिलसिला किसी श्राप (T20 World Cup Curse) से कम नहीं है। जो सालों से चला आ रहा है। जिसके शिकार कई दिग्गज बल्लेबाज हो चुके हैं, जिनमें भारत (India) के बेहतरीन बल्लेबाज विराट कोहली (Virat Kohli) और पाकिस्तान के कप्तान बाबर आज़म (Babar Azam) का नाम भी शुमार है। 

    दरअसल, जो भी बल्लेबाज टी20 वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बनाता है, उसकी टीम अभी तक उस साल के वर्ल्ड कप का खिताब नहीं जीत पाई है। 2007 में जब इस टूर्नामेंट का आगाज हुआ तब से यह रिकॉर्ड चला आ रहा है। जिसके 14 साल बाद भी यह रिकॉर्ड नहीं टूट पाया है। मानों यह पुरानी दंतकथाओं की श्राप की तरह है। तो चलिए आपको बताते हैं कौन से हैं वो बल्लेबाज जिनका दिल इस वजह से टूट चूका है…

    मैथ्यू हेडन (Matthew Hayden) 

    साल 2007 में जब टी20 वर्ल्ड कप खेलने की शुरुआत हुई। तब उस सीजन में ऑस्ट्रेलिया के मैथ्यू हेडन ने पूरे टूर्नामेंट में सबसे ज़्यादा रन बनाए थे। उन्होंने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 265 रन बनाए थे। लेकिन, ऑस्ट्रेलिया को सेमीफाइनल में भारत से हराकर बाहर जाना पड़ा था। उस साल का खिताब भारत ने ही अपने नाम किया था।

    तिलकरत्ने दिलशान (Tillakaratne Dilshan) 

    फिर साल 2009 में श्रीलंका के तिलकरत्ने दिलशान के बल्ले ने सबसे ज़्यादा रन बनाए थे। वर्ल्ड कप के दूसरे एडिशन में उन्होंने 317 रन बनाए थे और अपनी टीम को फाइनल तक भी पहुंचाया था, लेकिन श्रीलंका को पाकिस्तान से हार मिली और पाकिस्तान ने खिताब जीत लिया। 

    माहेला जयवर्द्धने (Mahela Jayawardene) 

    एक बार फिर 2010 में श्रीलंकाई बल्लेबाज ने सबसे ज्यादा रन बनाए। इस बार माहेला जयवर्द्धने के बल्ले ने आग उगला। उन्होंने उस टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा 302 रन बनाए। लेकिन श्रीलंकाई टीम खिताब नहीं जीत सकी। 2010 में इंग्लैंड ने खिताब जीता।

    शेन वॉटसन (Shane Watson) 

    साल 2012 में वेस्टइंडीज ने पहली बार टी20 वर्ल्ड कप जीता था। लेकिन, उस टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाड़ी शेन वॉटसन ने बनाए थे। उस सीजन में वॉटसन ने 249 रन बनाए थे, लेकिन यह रन उनकी टीम को चैंपियन नहीं बना सकी। 

    विराट कोहली (Virat Kohli)

    कुछ ऐसा ही भारतीय बल्लेबाज विराट कोहली के साथ भी हुआ। साल 2014 में भारत के विस्फोटक बल्लेबाज माने जाने वाले विराट कोहली के बल्ले से सबसे ज़्यादा रन आए थे। उस सीजन में उन्होंने 319 रन बनाए थे और टीम फाइनल तक भी गई थी, लेकिन भारत को फाइनल में श्रीलंका से शिकस्त का सामना करना पड़ा था। इस तरह एक बार फिर उस खिलाड़ी की टीम चैंपियन नहीं बन पाई थी, जिसने सबसे ज़्यादा रन बनाए थे। हालांकि, कोहली का एक एडिशन में सबसे ज्यादा रन का रिकॉर्ड ज़रूर बन गया था।

    तमीम इकबाल (Tamim Iqbal) 

    जब भारत में साल 2016 में टी20 वर्ल्ड कप खेला गया तो बांग्लादेश के तमीम इकबाल ने सबसे ज्यादा रन बनाए थे। इस सीजन में उन्होंने 295 रन ठोक डाले थे। लेकिन बांग्लादेश पहले ही दौर से बाहर हो गई थी। इस साल वेस्टइंडीज ने दूसरी बार बाजी मरकर खिताब अपने नाम किया था। 

    बाबर आज़म (Babar Azam) 

    अब बात करें 2021 के वर्ल्ड कप की तो इस साल भी कुछ ऐसा ही देखने मिला। भले ही इस साल का वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया ने जीत लिया हो, लेकिन सबसे ज्यादा रन बनाए पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम ने। इस साल पाकिस्तान का प्रदर्शन काफी शानदार भी रहा। लेकिन बाबर के 303 रन उन्हें ख़िताब नहीं दिला पाए। हालांकि, बाबर की कप्तानी में पाकिस्तान टीम सेमीफाइनल तक ज़रूर पहुंच सकी थी।