Monkeypox
File Pic

    नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली (Delhi) से आ रही बड़ी खबर के अनुसार, यहां के AIMMS में आज यानी शुक्रवार को 12 में से दो सैम्पल मंकीपॉक्स वायरस (Monkey Pox Virus) से पॉजीटिव मिले हैं। वहीं अब इन दोनों मरीजों को दिल्ली के LNJP हॉस्पिटल में भर्ती किया गया है। इस प्रकार अब 2 और केस मिलने पर देश में मंकीपॉक्स के कुल 9 पॉजिटिव केस हो गए हैं। इनमें 5 केरल से और बाकी दिल्ली से बताए गए हैं। इधर संयुक्त राज्य अमेरिका ने गुरुवार को मंकीपॉक्स को पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर दिया है।

    आज यानी शुक्रवार को मिले दोनों मरीजों की कोई ट्रैवल हिस्ट्री भी नहीं है। वहीं माइक्रोबायोलॉजी विभाग में प्रोफेसर डॉ. ललित डार के मुताबिक देश भर में मंकीपॉक्स की टेस्टिंग के लिए फिलहाल 15 लैब ICMR से रजिस्टर्ड हैं। बता दें कि मंकीपॉक्स के लिए भी RTPCR किया जाता है। हमारे पास जरूरत और मरीजों की संख्या के आधार पर एक दिन में 400 सैंपल लेने की क्षमता है। फिलहाल दिल्ली, बिहार, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और हरियाणा से सैम्पल टेस्टिंग के लिए ही आ रहे हैं।

    बीते शनिवार को भारत में मंकीपॉक्स से हुई थी पहली मौत 

    बता दें कि, बीते शनिवार को केरल के त्रिशूर में एक 22 साल के व्यक्ति की मौत हो गई थी। इस मृतक में भी मंकीपॉक्स के लक्षण पाए गए थे और वह हाल ही में UAE की यात्रा कर भारत लौटा था। वहीं केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने बताया था कि, मरीज नौजवान था और उसमें बीमारी या स्वास्थ्य संबंधी कोई दूसरी दिक्कत नहीं थी।

    क्या है मंकीपॉक्स 

    दरअसल मंकीपॉक्स मानव चेचक के समान एक दुर्लभ वायरल संक्रमण है। यह पहली बार 1958 में शोध के लिए रखे गए बंदरों में पाया गया था। वहीं मंकीपॉक्स से संक्रमण का पहला मामला 1970 में दर्ज किया गया था। यह रोग मुख्य रूप से मध्य और पश्चिम अफ्रीका के उष्णकटिबंधीय वर्षावन क्षेत्रों में होता है और कभी-कभी यह अन्य क्षेत्रों में भी आसानी से पहुंच जाता है।