पंजाब के मंत्री ने केजरीवाल से पूछा- दिल्ली हवाई अड्डे पर सरकारी बसों के प्रवेश पर रोक क्यों?

    अमृतसर:पंजाब के परिवहन मंत्री अमरिंदर सिंह राजा वडिंग (Amarinder Singh Raja Wadding) ने शनिवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री से जानना चाहा कि उनकी सरकार पंजाब की सरकारी बसों को दिल्ली अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे तक क्यों नहीं जाने दे रही है।

    वडिंग ने यहां एक होटल के बाहर अरविंद केजरीवाल से मुलाकात के दौरान आरोप लगाया कि निजी बसों को हालांकि इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे तक जाने की अनुमति दी जा रही है, जो लगभग तीन गुना किराया लेती हैं। वडिंग ने केजरीवाल से कहा, “राज्य परिवहन उपक्रम की वॉल्वो बसों को दिल्ली हवाई अड्डे तक जाने से रोक दिया गया है, जो प्रति यात्री केवल 1,200 रुपये ले रही हैं।

    दूसरी ओर, निजी बसों को अनुमति दे दी गई है और वे पंजाबियों को 3,000 से 3,500 रुपये प्रति यात्री वसूल कर खुलेआम ‘लूट’ कर रही हैं।”  पंजाब के मंत्री विशेष रूप से एक प्रभावशाली परिवार द्वारा चलाई जाने वाली बसों का जिक्र कर रहे थे।

    वडिंग के कार्यालय से जारी एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया है, “ऐसा करके केजरीवाल पंजाब को लूटने वाले परिवहन माफिया का समर्थन कर रहे हैं।” मंत्री ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री को 13 पत्र लिखे गए, लेकिन वह इस मुद्दे से अनजान होने का नाटक कर रहे हैं। वडिंग ने केजरीवाल से कहा कि अगर वह दिल्ली हवाई अड्डे तक पंजाब सरकार की बसों की अनुमति नहीं देना चाहते हैं, तो दिल्ली सरकार हवाई अड्डे से पंजाब के लिए बसें चला सकती है और सीमावर्ती राज्य में कांग्रेस सरकार उन बसों की आवाजाही के लिए सुविधा प्रदान करेगी। (एजेंसी)