Policeman hit couple with vehicle, case registered

    अहमदनगर. नगर जिले में पाथर्डी तहसील (Pathardi Tehsil) के शिरसाठवाडी में 25 अगस्त को 14 वर्ष उम्र का नाबालिग लड़की का विवाह (Marriage) कराने के मामले में लड़की के पिता, दुल्हे, उसके माता-पिता, पुरोहित, मंडप डेकोरेशन करनेवाले व्यवसायिक और शादी के लिए उपस्थित ऐसे करीब 25 लोगों के खिलाफ पाथर्डी पुलिस थाने (Pathardi Police Station) में मामला दर्ज किया है। इस बारे में मर्जी नामक मुंबई स्थित सामाजिक संस्था और चाइल्ड लाइन की पहल से यह मामला उजागर हुआ है।

    पाथर्डी तहसील के शिरसाठवाडी में 25 अगस्त को 14 वर्ष की नाबालिग लड़की का विवाह संपन्न हुआ। मर्जी नामक सामाजिक संस्था को इस बारे में जानकारी मिलने पर मर्जी के संस्थापक मंगेश सोनवणे ने अहमद नगर के चाइल्ड लाइन संस्था से संपर्क किया। बालकल्याण समिती, जिला पुलिस अधिक्षक को इस बारे में अवगत किया गया। इस के उपरांत चाइल्ड लाइन के प्रवीण कदम ने शिरसाठवाडी की ग्राम सेविका अर्चना सानप और पाथर्डी पुलिस को भी इस घटना की जानकारी दी। 

    जिले में मचा हड़कंप

    ग्रामसेवक सानप की शिकायत के अनुसार, पाथर्डी पुलिस ने बाल विवाह प्रतिबंधक कानून के तहत मामला दर्ज किया है। इस घटना से पुरे जिले में हडकंप मचा है। वास्तविक रूप से बाल विवाह रोकने के लिए ग्रामस्तर पर ग्रामसेवक, सरपंच, ग्रामपंचायत सदस्य ऐसे लोगों की एक देखरेख समिति होनी चाहिए लेकिन शिरसाठवाडी में 25 अगस्त को 14 वर्ष की नाबालिग का बाल विवाह होने के बावजूद दखल नहीं ली गई। स्थानिक स्तर पर बाल विवाह होने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हुई ऐसा अफसोस मंगेश सोनवणे ने व्यक्त किया है।