Vaccination

    अकोला. मंगलवार को हुई मनपा की ऑनलाइन आम सभा में 400 रुपये में नया नल कनेक्शन देने की समय सीमा 31 दिसंबर तक बढ़ा दी गई है. इसी तरह संपत्ति कर पर शास्ती माफ़ी अभय योजना को बढ़ाने के साथ साथ कुत्तों की टीकाकरण के लिए 50 लाख रू. की स्वीकृति दी गयी है. सभे की अध्यक्षता महापौर अर्चना मसने ने की.

    मंच पर मनपा उपायुक्त वैभव आवारे, नगर सचिव अनिल बिडवे उपस्थित थे. इस अवसर पर सभा में शहर के आवारा कुत्तों की नसबंदी और टीकाकरण के लिए 15वें वित्त आयोग से 50 लाख रुपये के खर्च को मंजूरी दी गयी. शहर के विस्तारित क्षेत्र में नई जलापूर्ति पाइप लाइन डालने की स्वीकृति दी गई. वार्ड 12 में रामसेतु व पुल निर्माण को मंजूरी दी गयी. 

    राजेश मिश्रा ने उठाए कई मुद्दे

    शिवसेना के गट नेता राजेश मिश्रा इस समय काफी आक्रामक थे. एक सवाल उठाते हुए कहा कि वार्ड में नालियों का निर्माण कार्य करना जरूरी है तो 50 हजार रुपए जल्दी नहीं दिए जाते है. लेकिन आप कुत्तों की नसबंदी के लिए 50 लाख रुपये कैसे दे रहे हैं? यह सवाल राजेश मिश्रा ने उपस्थित किया. उन्होंने आगे कहा कि कुत्तों की नसबंदी के लिए मनपा निधि के अंतर्गत टेंडर निकाले गए. इस पर मनपा निधि से लगभग 18 लाख रू. खर्च भी किए गए हैं फिर अब 15वें वित्त आयोग से खर्च कैसा कर रहे हैं यह सवाल भी उन्होंने उठाया. 

    सत्ताधारी पार्षद ने ही लगाया अनियमिता का आरोप 

    कांजी हाऊस विभाग के अंतर्गत शहर में आवारा कुत्तों की नसबंदी व कुत्तों के काटने पर रोग प्रतिबंधक टीकाकरण का विषय सभा में रखा गया. इस काम के लिए 15वें वित्त आयोग से 50 लाख रुपये खर्च करने के लिए आम सभा में मंजूरी देने की चर्चा चल रही थी. इस बीच, सत्तारूढ़ भाजपा पार्षद सिद्धार्थ शर्मा ने कुत्तों की नसबंदी और टीकाकरण में अनियमितता का आरोप लगाया. जिससे सत्ताधारी पार्षद ने अनियमिता का आरोप लगाने से सत्ताधारी पार्षदों के बीच खलबली मच गयी थी.