oldest-train-of-indian-railways-Punjab Mail traveling-for-110-years-punjab-mail-110-year-old
File Photo

    अकोला. नागपुर-मडगांव स्पेशल ट्रेन को नियमित करने तथा उसका विस्तार वास्कोडिगामा तक किए जाने की मांग विदर्भ यात्री संघ ने रेलमंत्री अश्विनीकुमार वैष्णव, रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष व सीईओ वी.के. त्रिपाठी, मध्य रेल के महाप्रबंधक अनिल लाहोटी, कोंकण रेल के महाप्रबंधक व मैनेजिंग डायरेक्टर संजय गुप्ता एवं पूर्वतटीय रेल के महाप्रबंधक शरद श्रीवास्तव से एक निवेदन के माध्यम से की है. 

    निवेदन में 01139/01140 नागपुर-मडगांव विशेष गाड़ी को नियमित किया जाए तो सभी यात्री इसका लाभ उठा सकेंगे. साथ ही इस गाड़ी का विस्तार वास्कोडिगामा तक किए जाने से पर्यटकों को अधिक सुविधा होगी. वहां से आने वाले विट्स पिलानी, गोवा कॉलेज के विद्यार्थी भी लाभान्वित होंगे.

    इस गाड़ी को एक दिन भुवनेश्वर से वास्कोडिगामा तक चलाया जाए तो दो समुद्रतटीय शहर एक-दूसरे से जुड़ जाएंगे तथा कोंकण के वीर, खेड़, चिपलूण, रोहा, थीविम, सावंतवाड़ी, करमाली, रत्नागिरि एवं संगमेश्वर आदि परिसरों के यात्रियों के लिए भी यह सुविधाजनक रहेगा. रेल विभाग फिलहाल यात्रियों की सुविधा पर विशेष ध्यान दे रहा है.

    इसी कड़ी में नागपुर से वास्कोडिगामा व भुवनेश्वर से वास्कोडिगामा इन दोनों गाड़ियों को नियमित रूप से चलाए जाने की अपेक्षा विदर्भ यात्री संघ के अध्यक्ष डा. रवि आलिमचंदानी, अशोक अग्रवाल, दीप मनवाणी, डा. आशुतोष कुलकर्णी, डा. गद्रे, विजय खंडेलवाल, डा. दुष्यंत, मास्टर लवेश एवं राजू अकोटकर आदि पदाधिकारियों ने निवेदन के माध्यम से व्यक्त की है.