File Photo
File Photo

    Loading

    अमरावती. यशोदा नगर में रहने वाली महिला पर राकेल डालकर उसे जिंदा जलाकर हत्या करने का प्रयास करने वाले आरोपी पति सौरभ चांदणे व उसकी मां के खिलाफ फ्रेजरपुरा पुलिस थाने में जानलेवा हमला के तहत मामला दर्ज किया गया, लेकिन  फ्रेजरपुरा पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार करने में लापरवाही बरत रहने का आरोप परिजनों ने लगाया है. आग में झूलसी गर्भवती महिला की जान को खतरा है, दोनों आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार किया जाए व लापरवाही बरतने वाले पुलिस के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग टायगर फोर्स आफ इंडिया के पदाधिकारियों ने पत्र परिषद के माध्यम से की है.

    बदला लेने के उद्देश से हमला

    फोर्स के अध्यक्ष गणेदास गायकवाड ने कहा है कि पुनम का विवाह सौरभ चांदने के साथ 2018 में हुआ. पुनम की बहन हर्षा का भी पुनम के देवर शुभम के साथ हुआ. शुभम का महिला मंडल में मामला शुरु रहने के कारण हर्षा का बदला निकालने के लिए पुनम के पति व पुनम की सास ने पुनम के शरीर पर राकेल डालकर जिंदा जलाने का प्रयास किया. इसमें वह 45 प्रतिशत झुलस गई.

    इस बारे में फ्रेजरपुरा पुलिस थाने में आरोपियों के खिलाफ दफा 307 के तहत मामला दर्ज किया गया, लेकिन मामले की जांच शुरु है, ऐसा बहाने बनाते हुए आरोपियों को अब तक गिरफ्तार नहीं किया गया. अब वे घर पर आकर दहशत निर्माण कर रहे है. हत्या का प्रयास करने के बाद भी आरोपी खुलेआम घुम रहे है, उन्हें तत्काल गिरफ्तार कर लापरवाही बरतने वाले फ्रेजरपुरा पुलिस पर कार्रवाई करे. इस समय दादासाहब क्षिरसागर, गणेश कलाणे, सुरेश गायकी, संतोष कुलटेके, विष्णुपंत गवली, प्रवीण मोखले उपस्थित थे.