RANA
Pic: Twitter

    • नवनीत की चुनौती पर फिर भडके शिवसैनिक 

    अमरावती. सांसद नवनीत राणा द्वारा शिवसेना प्रमुख और राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को चुनौती देने पर भडकी शिवसेना ने पलटवार करते हुए उन्हे ही चुनौती दी है. शिवसेना के जिला प्रमुख सुनील खराटे ने उन्हें ललकारते हुए कहा कि वे सांसद पद से इस्तीफा देकर पहले अमरावती लोकसभा क्षेत्र से उनके खिलाफ चुनाव लड़कर बताएं.

    केवल पब्लिसिटी स्टंट

    शिवसेना जिला प्रमुख सुनील खराटे ने आरोप लगाया कि अमरावती लोकसभा क्षेत्र के मतदाता जिन्होंने नवनीत राणा को बड़े विश्वास के साथ चुना, उन्हे और विशेष रूप से बौद्ध और मुस्लिम मतदाताओं को धोखा देकर कि नवनीत राणा ने भाजपा का दामन थामा है. यह सब वे अपनी राजनीतिक सुविधा के लिए कर रही है. चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी का अपमान करने वाली नवनीत राणा अब उनकी तारीफ करने लगी हैं.

    खराटे ने कहा है कि वह हिंदुत्व का झूठा शॉल ओढकर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर आरोप लगाकर शोहरत हासिल करने की कोशिश कर रही हैं. शिवसेना प्रमुख और राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को दी गई चुनौती के बारे में कहते हुए खराटे ने कहा कि मुख्यमंत्री दूर रहे, पहले हमारे साथ पंगा लेकर दिखाना होगा. सांसद अपने पद से इस्तीफा दे और अमरावती लोकसभा क्षेत्र से हमारे खिलाफ चुनाव लड़कर दिखाए, ऐसी चुनौती खराटे ने दी है. 

    पहले शिवसैनिक को हराकर दिखाए

    मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ चुनाव लड़ना तो दूर की बात है. पहले अमरावती संसदीय क्षेत्र से हमारे शिवसैनिक को हराकर दिखाएं. बार-बार शिवसेना प्रमुख का नाम लेकर चुनौती देने का यह केवल एक पब्लिक स्टंट है. उसके अलावा कुछ नहीं यह जनता भी अच्छी तरह से जानती है. जाति आ फर्जी सर्टिफिकेट बनाने वाले शिवसेना प्रमुख को क्या चुनौती देंगे.

    कोर्ट ने जमानत देते समय राणा दंपत्ति को मीडिया के साथ किसी भी तरह की बातचीत नहीं करने की हिदायत दी थी. उसके बावजूद इस तरह फिर एक बार चर्चा में रहने के लिए सांसद नवनीत राणा उल जलूल बातें कर रही है. यह कौन सी राजनीति है यह समझ से परे है. विकास छोड़कर इस तरह की बातें किए जाने से आज अमरावती जिले की जनता भी बेजार परेशान हो गई है.- पराग गुडधे, महानगर प्रमुख शिवसेना