Lokpal Complaints: Anti-corruption body Lokpal received 110 complaints of corruption in 2020-21, out of which four were against MPs

  • जिला उपनिबंधक की रिपोर्ट में खुलासा

परतवाडा: अचलपुर कृषि उपज मंडी समिति में पद भर्ती घोटाले का मामला उजागर हुआ है. सहकारी संस्था जिला उपनिबंधक की रिपोर्ट में खुलासे के बाद पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करने के आदेश दिए थे. उसके बाद सोमवार  को अचलपुर पुलिस स्टेशन में सचिव और एक महिला समेत तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. इनमें सहायक सचिव पंकज भेटालू, शैलेश शुक्ला तथा एक महिला का समावेश है. इस मामले से सहकारी क्षेत्र में खलबली मची है. 

अंतिम तिथि के बाद लिया आवेदन

अचलपुर कृषि उपज मंडी समिति में 2019 में जंबो भर्ती हुई थी. इस भर्ती का ठेका केएनके टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड को दिया गया था. इच्छुक उम्मीदवारों को आवेदन के लिए कंपनी ने एक वेबसाइट बनाई थी. इस वेबसाइट पर आवेदन जमा करने की समय सीमा 30 जुलाई, 2019 थी, लेकिन एक महिला उम्मीदवार को भर्ती का अवसर दिलाने अंतिम तिथि के बाद भी वेबसाइट शुरू रख शुल्क भुगतान का अवसर दिया गया था.

मार्केट कमेटी के सहसचिव, केएनके के संचालक, प्रकल्प संचालक, महिला कर्मचारी तथा उसके कर्मचारी भाई ने सांठगांठ कर यह कारनामा जांच में उजागर हुआ है. इस मामले की गंभीरता को देखते हुए, सहकारी समिति जिला उपनिबंधक, अमरावती ने दो बार मार्केट कमेटी को पत्र देकर फौजदारी कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे.

अनशन की चेतावनी के बाद जांच

अचलपुर बाजार समिति द्वारा आपराधिक कार्रवाई करने टालमटोल कर रही थी. लेकिन इस मामले में शिकायतकर्ता राहुल कडू ने जिला उपनिबंधक को कार्रवाई करने की मांग करते हुए अनशन की चेतावनी दी थी. इतना ही नहीं, अमरावती के पुलिस अधीक्षक और जिलाधीश को भी पत्र की प्रति सौंपे गई. जिसके बाद पुलिस अधीक्षक डा.हरि बालाजी ने मामले की जांच अचलपुर पुलिस थानेदार सेवानंद वानखेड़े को सौंपी. थानेदार वानखड़े ने गहन छानबीन की और सच्चाई का पता लगाया.

और नाम सामने आने की संभावना

सहकारी संस्था जिला उपनिबंधक से पत्र मिलने के बाद हडबडाकर जागी बाजार समिति ने दो दिन पहले परतावाड़ा पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई. लेकिन पुलिस ने शिकायत अधूरी बताते हुए पूरी शिकायत दर्ज कराने कहा. पूरी शिकायत दर्ज होने के बाद धारा 420, 465, 468, 71 और 34 के तहत मामला दर्ज किया गया .इस मामले में आपराधिक कार्रवाई के निर्देश के बाद, एपीएमसी में हडकम्प मचा हुआ है. 3 व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद और कुछ लोग नामजद होने की संभावना है.