ambaadaas daanave ne sheyar kee raaj thaakare kee muslim poshaak vaalee tasveer, kaha- yah saampradaayik bayaan dene ka samay nahin aurangaabaad. korona kaal ke baad janata ke samaksh aayee samasyaen tatha usaka hal nikaalane ke lie kendr va raajy sarakaar ko soojhaav dekar us par krti karanevaala vaheen sachamoot janata ka neta hai. aaj jaati,dharm, praant, saampradaayik par bayaanabaajee karane ka samay nahin hai. beete do saal se log korona mahaamaaree se pareshaan the. mahaamaaree ne karodo logon ka rojagaar chhina hai. us par bolane ke bajae manase pramukh raaj thaakare ne saampradaayik bayaan baajee kar mahaaraashtr ka maahaul bigaadane ka prayaas kiya. is shivasena ke jila pramukh tatha vidhaayak ambaadaas daanave ne phesabuk par raaj thaakare kee muslim topee pahanee huee photo vaayaral kar un par khoob raag alaapa. ambaadaas daanave ne kaha ki korona mein jo log berojagaar hue hai, ve log rojagaar paane ke lie dar-dar bhatak rahe hai. kendr sarakaar kee galat neetiyon ke chalate mahangaee aasamaan ko chhoo rahee hai. aaj indhan, gais ke daam se gareeb parivaar kee kamar tootee hai.gareeb parivaar ko apana ghar chalaana dooshvaar ho raha hai. is par manase pramukh raaj thaakare kuchh bolate to shaayad janata ke man mein unake lie kuchh jagah ban jaatee. mumbee ke shivateerth par gudhee paadhava ke upalakshy mein manase pramukh raaj thaakare dvaara aayotit sneh sammelan mein sneh badhaane ke bajae jaati dharm mein dvesh phailaane ka kaam raaj thaakare ne kiya. raaj thaakare ke bayaan se mahaaraashtr kee janata ko niraasha haath lagee raaj thaakare ke bhaashan se mahaaraashtr kee janata ko sirph niraasha haath lagate hue janata chinta badhee hai. raaj thaakare kendr sarakaar kee neetiyon par raag alaapate to shaayad janata ko unaka bhaashan pasand aata. balki, unake kaaryakarta bhee un par khoob taaliyaan barasaate. raaj ke bayaan ke baad jo taaliyaan baj rahee thee, vah maamoolee thee.daanave ne aarop lagaaya ki raaj thaakare ne saampradaayik bayaan baajee kar do samudaay mein duriyaan banaane ka kaam kiya hai. aaj janata ke samaksh kaee samasyaen sata rahee hai. daanave ne saaph kiya ki shivasena pramukh baal thaakare yah kaaphee dooradrshti vaale neta the. unakee kamee aaj poore mahaaraashtr ko sata rahee hai. shivasena vidhaayak ambaadaas daanave dvaara manase pramukh raaj thaakare ka muslim topee pahana hua photo vaayaral karane ke baad manase neta unhen soshal meediya par kis tarah javaab dete hai, yah dekhana hoga. agar, manase kaaryakartaon ne shivasena netaon ke saath soshal meediya vor shuuru kiya to shivasena bhee usake lie saksham hai. bata de ki shanivaar ko raaj thaakare ne gudhee paadhava par aayojit manase ke sneh sammelan mein masjid par lage laudaspeekar tatkaal nikaalane kee chetaavanee raajy sarakaar ko dee. raaj thaakare ke bayaan ke baad mahaaraashtr mein phir ek baar saampradaayik raajaneeti garama huee hai. Show more 2,353 / 5,000 Translation results Ambadas Danve shared a picture of Raj Thackeray in Muslim attire, said- this is not the time to make a communal statement

    औरंगाबाद : कोरोना काल (Corona period) के बाद जनता के समक्ष आई समस्याएं और उसका हल निकालने के लिए केंद्र और राज्य सरकार (State Government) को सुझाव देकर उस पर कृति करने वाला ही सचमुच जनता का नेता है। आज जाति, धर्म, प्रांत, साम्प्रदायिक पर बयानबाजी करने का समय नहीं है। बीते दो साल से लोग कोरोना महामारी से परेशान थे।

    महामारी ने करोड़ों लोगों का रोजगार छिना है। उस पर बोलने के बजाए मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने साम्प्रदायिक बयानबाजी कर महाराष्ट्र का माहौल बिगाड़ने का प्रयास किया। इस शिवसेना (Shiv Sena) के जिला प्रमुख तथा विधायक अंबादास दानवे (Ambadas Danve) ने फेसबुक (Facebook) पर राज ठाकरे (Raj Thackeray) की मुस्लिम टोपी (Muslim Cap) पहनी हुई फोटो वायरल कर उन पर खूब राग अलापा।

    अंबादास दानवे ने कहा कि कोरोना में जो लोग बेरोजगार हुए है, वे लोग रोजगार पाने के लिए दर-दर भटक रहे है। केन्द्र सरकार की गलत नीतियों के चलते महंगाई आसमान को छू रही है। आज इंधन, गैस के दाम से गरीब परिवार की कमर टूटी है। गरीब परिवार को अपना घर चलाना दुश्वार हो रहा है। इस पर मनसे प्रमुख राज ठाकरे कुछ बोलते तो शायद जनता के मन में उनके लिए कुछ जगह बन जाती। मुंबई के शिवतीर्थ पर गुढी पाढ़वा के उपलक्ष्य में मनसे प्रमुख राज ठाकरे द्वारा आयोतित स्नेह सम्मेलन में स्नेह बढ़ाने के बजाए जाति धर्म में द्वेष फैलाने का काम राज ठाकरे ने किया।

    राज ठाकरे के बयान से महाराष्ट्र की जनता को निराशा हाथ लगी

    राज ठाकरे के भाषण से महाराष्ट्र की जनता को सिर्फ निराशा हाथ लगते हुए जनता  की चिंता बढ़ी है। राज ठाकरे केन्द्र सरकार की नीतियों पर राग अलापते तो शायद जनता को उनका भाषण पसंद आता। बल्कि, उनके कार्यकर्ता भी उन पर खूब तालियां बरसाते। राज ठाकरे के बयान के बाद जो तालियां बज रही थी, वह मामूली थी। दानवे ने आरोप लगाया कि राज ठाकरे ने साम्प्रदायिक बयानबाजी कर दो समुदाय में दुरियां बनाने का काम किया है। आज जनता के समक्ष कई समस्याएं सता रही है। दानवे ने साफ किया कि शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे काफी दूरदृष्टि वाले नेता थे। उनकी कमी आज पूरे महाराष्ट्र को सता रही है।

    शिवसेना विधायक अंबादास दानवे द्वारा मनसे प्रमुख राज ठाकरे का मुस्लिम टोपी पहना हुआ फोटो वायरल करने के बाद मनसे नेता उन्हें सोशल मीडिया पर किस तरह जवाब देते है, यह देखना होगा। अगर, मनसे कार्यकर्ताओं ने शिवसेना नेताओं के साथ सोशल मीडिया वॉर शुरू किया तो शिवसेना भी उसके लिए सक्षम है। गौरतलब है कि शनिवार को राज ठाकरे ने गुड़ी पाढ़वा पर आयोजित मनसे के स्नेह सम्मेलन में मस्जिद पर लगे लाउडस्पीकर तत्काल निकालने की चेतावनी राज्य सरकार को दी। राज ठाकरे के बयान के बाद महाराष्ट्र में फिर एक बार साम्प्रदायिक राजनीति गरमा गई है।