File Photo
File Photo

    • मुरमाडी सावरी की घटना 

    लाखनी. तहसील के मुरमाडी सावरी के नहर को लगकर शुरू होनेवाले निर्माण काम पर बिजली का करंट लगने से मजदूर गंभीर जख्मी होने की घटना 30 अगस्त को दोपहर 1 बजे के दौरान घटीत हुई थी. इस घटना में तहसील के गराडा निवासी सुनिल सुरणकर (40) यह निर्माण काम मजदूर गंभीर जख्मी हुआ था. 

    इस प्रकरण में 1 नवंबर को जांच के अंत में घर मालिक व निर्माण काम ठेकेदार के विरोध में लाखनी पुलिस में मामला दर्ज किया है. मुलचंद पतिराम वाघाये (55) व सतीश दयाराम सोनटक्के (32) मुरमाडी/सा ऐसी आरोपी के नाम है. 

    मुलचंद वाघाये के घर का निर्माण काम मुरमाडी सावरी के नहर को लगकर शुरू होकर उस काम पर सुनिल सुरणकर यह मजदूर काम पर कार्यरत था. सदर निर्माण काम को लगर बिजली विभाग की 11 केवी उच्च दाब की बिजली वाहीनी (इलेक्ट्रिक तार ) गयी है. इस बिजली वाहीनी से हमेशा 24 घंटे 11 हजार वोल्ट की बिजली आपूर्ति रहती है. 

    जिससे सदर बिजली वाहीनी को बिजली वाहक वस्तु या लोहे का स्पर्श होने से करंट लगकर दुर्घटना होकर गंभीर जख्म हो सकती है. यह जानकारी होने के पश्चात भी निर्माण काम मजदूर सुनिल सुरनकर को मकान का काम करते समय कोई भी सुरक्षा का साहित्य आपूर्ति नहीं करते हुए इमारत का निर्माण काम का लोहा बांधने का काम लिया गया था. 

    जिससे जख्मी सुनिल सुरणकर यह लोहा बांधते समय उसके हाथ की लोहे की सलाख मकान के समीप जानेवाली 11 केवी बिजली वाहीनी के तार को स्पर्श होने से सुनिल को तीव्र बिजली का झटका लगने से सुनिल का बायी हाथ गंभीर तरीके से झुला. एवं उसका दायी पैर फैक्चर हो गया. शीघ्र ही उसको भंडारा के निजी अस्पताल में ले जाया गया. 

    जिससे घर मालिक मुलचंद वाघाये व निर्माण काम ठेकेदार सतीश सोनटक्के के विरोध में पुलिस नायक प्रमोद बागडे की शिकायत पर से लाखनी पुलिस ने मामला दर्ज कर आगे की जांच पुलिस उपनिरीक्षक दिलीप कुमार घरडे व पुलिस शिपाई निशांत माटे कर रहे है.