Mumbai Vaccination Updates : Fake vaccination certificate gang busted in Mumbai amid rising Omicron cases in Maharashtra, police arrested two people
File Photo

    साकोली. महाराष्ट्र सरकार का लक्ष्य 30 नवंबर तक सभी पात्र नागरिकों को कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक देना है. तद्नुसार 24 से 30 नवंबर तक साकोली नप प्रशासन ने नप सीमा में प्रथम खुराक लेने वाले लाभार्थियों को लकी ड्रा के माध्यम से पुरस्कार देने का निर्णय लिया है. यह अभिनव उपक्रम पहली खुराक के उद्देश्य को पूरा करने में मदद करेगा. ऐसी उम्मीद नप. के मुख्य अधिकारी डा. कुलभूषण कावले ने व्यक्त की. 

    26 नवंबर को नगराध्यक्ष धनवंता राऊत, मुख्याधिकारी डा. कुलभूषण रामटेके के हाथों पुरस्कार दिया गया. इस दौरान मुख्य अधिकारी डा. कुलभूषण रामटेके ने सभी लोगों से टीकाकरण कराने का आह्वान किया. योजना शुरू होने के बाद पहले दिन करीब 70 नागरिकों ने 3 केंद्रों पर पहली खुराक ली. वही 300 नागरिकों ने दूसरी खुराक ली. 

    कोविड वैक्सीन की पहली खुराक लेनेवाले

    3 केंद्रों पर कुल 46 नागरिकों ने पहली खुराक ली है. वही 209 नागरिकों ने दूसरी खुराक ली है. जिसमें ग्रामीण अस्पताल में पहली खुराक लेनेवाले 10 नागरिकों में से याक्षणी घुटके को प्लास्टिक चेअर, ग्रापं. भवन सेंदूरवाफा में 15 लोगों ने पहली खुराक ली इन में से भागरथा भोयर सिलिंग फैन, साकोली पीएचसी 1 में कुल 21 लोगों ने पहली खुराक ली. इनमें से शबाना पठाण को इलेक्ट्रिक प्रेस पुरस्कार दिया गया. 

    किरायेदारों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करें-रामटेके 

    मुख्याधिकारी डा. कुलभूषण रामटेके ने कहा कि साकोली नप. सीमा में छोटे-बड़े व्यवसाय या मजदूरी करने के लिए दूसरे गांव या दूसरे राज्य से आए नागरिकों का टीकाकरण किया जाए. जिन घरों में ये लोग किराए पर रहते हैं, उन्हें किरायाधारकों को टीका लगवाने के लिए राजी करना चाहिए. जो घर के मालिक से या बाहर से वैक्सीन नहीं लेगा और अगर मकान मालिक इस विषय में जानकारी छिपाते हैं तो पुलिस कार्रवाई की जाएगी.

    टीकाकरण नहीं कराने वालों को नहीं मिलता सरकारी योजना का लाभ- शेंदरे 

    उमरी ग्रापं. में कोरोना टीकाकरण को लेकर योजना बैठक हुई. इस बीच जिन नागरिकों को कोरोना प्रतिबंधक वैक्सीन नहीं मिलेगी उन्हें 2 दिसंबर से ग्रापं. द्वारा  प्रमाण पत्र, सातबारा, राशन की दुकान से अनाज एवं सरकारी योजना के अन्य लाभ नहीं दिए जाएंगे. ऐसी जानकारी सरपंच प्रल्हाद शेंदरे ने दी.  बैठक में डा. भोयर, डा. डोंगरवार, पटवारी मेश्राम, छगन पत्रीकर, मधुकर चन्नेकर, आंगनवाडी सेविका व ग्रामीण उपस्थित थे.