garbage, nagpur

    खामगांव. दिवाली जैसे त्योहार में वेतन न मिलने के कारण शहर की कचरा उठाने वाली घंटा गाड़ियों के ठेका कर्मचारियों ने सभी घंटा गाड़ियां नगर पालिका के सामने खड़ी कर काम बंद आंदोलन शुरू किया है. कचरा उठाने वाली कंपनी ने इन कर्मचारियों को दो माह से वेतन न देने के कारण कर्मचारियों की दिवाली अंधेरे में गई. जिस कारण उक्त कर्मचारियों ने यह काम बंद आंदोलन शुरू किया है.

    शहर का कचरा जमा करने का ठेका यह पुणा की कंपनी को दिया गया हैं, जिस कारण इस विषय पर हस्तक्षेप किया नहीं जाता है. उक्त कंपनी ने कर्मचारियों को विगत दो माह से वेतन नहीं दिया है. दिवाली बोनस भी नहीं दिया है. जिस कारण इन कर्मचारियों ने 3 नवम्बर से शहर की सभी घंटा गाड़ियों पर के कर्मचरियों ने शहर का कचरा जमा न करते हुए काम बंद आंदोलन कर सभी घंटा गाड़ियां नगर पालिका के सामने खड़ी की है. जिस कारण त्योहारों के दिनों में शहर में कचरा, गंदगी फैलनी की संभावना हैं.

    शहर का कचरा हररोज उठाए जाना आवश्यक हैं, लेकिन शहर की घंटा गाड़ियों पर के कर्मचारियों ने काम बंद आंदोलन पुकारने से शहर में जगह – जगह कचरे के ढेर जमा होने की संभावना नजर आ रही हैं. स्थानीय नगर पालिका प्रशासन ने इस ओर ध्यान देकर संबंधित कचरा उठाने का ठेका दिए कंपनी से बातचीत कर यह समस्या हल करने के लिए प्रयास करें, ऐसी मांग शहर के व्यावसायी, दूकानदार सहित नागरिकों व्दारा की जा रही हैं.