प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

  • विवेक कुमार गुप्ता ने दी जानकारी

जलगांव. मंडल रेल प्रबंधक विवेक कुमार गुप्ता (Vivek Kumar Gupta) ने कहा कि रेलवे यार्ड एरिया (Railway yard area) में बेहतर निगरानी के लिए ड्रोन कैमरे (Drone cameras) का उपयोग किया जायेगा तथा रेलवे के महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों के साथ-साथ रेलवे एरिया में जुटने वाली भीड़ पर भी कैमरे से निगरानी की जायेगी। रेलवे संपत्ति व रेल यात्रियों की सुरक्षा हेतु भी ड्रोन कैमरे का उपयोग कारगर सिद्ध होगा। दुर्घटना और आपदा के काल में प्रभावी रूप से खोज और निरीक्षण कार्यों का वहन ड्रोन कैमरे द्वारा किया जायेगा।

रेलवे सुरक्षा जवानों को दिया गया प्रशिक्षण

गुप्ता रेलवे सुरक्षा बल (Railway security force) सदस्यों के लिए आयोजित 3 दिवसीय प्रशिक्षण सत्र को संबोधित कर रहे थे। प्रशिक्षण का उद्धघाटन मंडल रेल प्रबंधक विवेक कुमार गुप्ता भुसावल द्वारा किया गया इस प्रशिक्षण सत्र में ड्रोन कैमरा के सिद्धांत के साथ साथ ऑन फील्ड उड़ान  का प्रशिक्षण कर्मियों को दिया। क्षितिज गुरव मंडल सुरक्षा आयुक्त रेलवे बल भुसावल मंडल  ने कहा कि दूरदृष्टि व प्रयन्त से निंजा सर्विलांस ड्रोन कैमरा की विशेषता यह है  एक सिंगल टच ऑपरेशन वर्टीकल टेक ऑफ और लैंडिंग ऑपरेशन, सीमित स्थानों से होकर सर्विलांस की क्षमता रखता है।

2 किमी जा सकता है ड्रोन

यह ड्रोन कैमरा लम्बी दूरी में 2 किमी तक जा सकता है एवं इसकी उड़ान की ऊंचाई 200  मीटर तक  है। यह 0 डिग्री सेल्सियस से 50 डिग्री सेल्सियस में भी कार्य कर सकता है।