साइबर जालसाजों ने एक व्यक्ति से की 3 लाख रुपये की ठगी

    मुंबई: मुंबई में एक साइबर क्राइम का मामला सामने आया है। जहां एक 26 वर्षीय व्यक्ति ने कुछ घंटों के अंतराल में 3 लाख रुपये खो दिए। आरोपी ने पीड़ित को एक ई-कॉमर्स कंपनी में नौकरी का लालच देकर उसे पैसे देने के लिए प्रेरित किया। आरएके मार्ग पुलिस ने मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

    पुलिस के अनुसार, शिकायतकर्ता पेशे से वीडियो एडिटर है और वडाला में सीजीएस कॉलोनी में अपने परिवार के साथ रहता है और उसके पिता भारतीय लेखा परीक्षा और लेखा विभाग में काम करते हैं। 

    बता दें कि पीड़ित को 30 अगस्त को एक प्रतिष्ठित ई-कॉमर्स कंपनी में ऑनलाइन अंशकालिक नौकरी के अवसर और प्रति दिन 8,000 रुपये की आय की पेशकश करने वाला एक टेक्स्ट संदेश मिला। उस संदेश में एक व्हाट्सएप लिंक भी था। पीड़ित ने इसे कमाई का एक बड़ा अवसर मानते हुए उस लिंक पर क्लिक किया। जो उसे एक ऐसे व्यक्ति के व्हाट्सएप नंबर पर ले गया।  आरोपी ने अपनी पहचान मरसाया के रूप में कराई। 

    आरोपी ने पीड़ित को जॉब प्रोफाइल के बारे में बताया और पीड़ित को एक लिंक फॉरवर्ड किया जिसमें एक रजिस्ट्रेशन पेज भी था। जिसके बाद ई-कॉमर्स कंपनी से होने का दावा करने वाले अलग-अलग लोगों ने पीड़ित को भारी बोनस कमाने के लिए अलग-अलग खातों में पैसे जमा करने के लिए प्रेरित किया। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि 3.04 लाख रुपये के कई लेन-देन करने के बाद पीड़ित को एहसास हुआ कि उसके साथ धोखा किया जा रहा है।

    जिसके बाद पीड़ित ने पुलिस से संपर्क किया। पुलिस ने सोमवार को भारतीय दंड संहिता की धारा 419 (प्रतिरूपण द्वारा धोखाधड़ी के लिए सजा) और धारा 420 (धोखाधड़ी) और धारा 66 सी और 66 डी  के तहत मामला दर्ज किया गया है।