Rani Bagh

    मुंबई. भायखला (‍Byculla) के रानीबाग ( Rani Bagh) में पेंग्विन (Penguin) रखे गए पेंग्विनों की संख्या में वृद्धि हो रही हे। पिछले चार महीने में दो बच्चों का जन्म हुआ है। महापौर किशोरी पेडणेकर (Mumbai Mayor Kishori Pednekar) ने बताया कि डोनाल्ड एवं डेसी नामक जोड़े में से (डेसी) ने एक अंडा दिया, जिसके बाद 1 मई 2021 को ओरिओ नामक नर पेंग्विन का जन्म हुआ। ओरियो अब साढ़े तीन महीने के हो गया है। वहीं मोल्ट ने नर से फ्लिपर मादा पेंग्विन की जोडी ने एक अंडा दिया, जिसके बाद 19 अगस्त 2021 को एक और पेंग्विन बच्चे का जन्म हुआ। वह अभी सिर्फ 25 दिन का है, इसलिए नर है या मादा इसका पता नहीं चला है। रानीबाग पेंग्विन बाडे में दो नए मेहमान आने से पेंग्विन की संख्या बढ़कर 9 हो गई है।  

    रानीबाग के सुपरिटेंडेंट डॉ. संजय त्रिपाठी ने बताया कि पेंग्विन की देखभाल करने वाले डॉक्टरों ने जन्मे बच्चे को ओरिओ नाम दिया है। डॉक्टर इन दोनों बच्चों की देखरेख कर रहे हैं।  पेंग्विन के रखरखाव के लिए जारी किया गया था। विवाद होने के बाद बीएमसी कमिश्नर ने इसे वापस ले लिया था। अब महापौर ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि पेंग्विन पर विपक्षी चाहे जितनी राजनीति करें, लेकिन पेंग्विन मुंबई की पहचान बन गई हैं। 

    महापौर ने कहा- नहीं बदलेगा टेंडर

    महापौर ने कहा कि पेंग्विन की देखभाल के लिए निकाले गए टेंडर में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा। बीएमसी ने 15 करोड़ रूपये का टेंडर निकाला था,  जिस पर विपक्ष ने सवाल खड़े किए थे। रानीबाग में 7 पेंग्विन थी।  फ्लिपर नामक मादा पेंग्विन ने वर्ष 2018 में अंडा दिया था। जिससे पहले पेंग्विन का जन्म हुआ था, लेकिन एक सप्ताह के भीतर उसकी मृत्यु हो गई थी। अब फ्लिपर द्वारा दिए गए  दूसरे अंडे से 19 अगस्त को बच्चे का जन्म हुआ।