Three killed, one injured after being hit by an electric wire in Uttar Pradesh's Shamli and Muzaffarnagar
Representative Photo

    नाशिक. पुराने नाशिक (Nashik) के ट्रैक्टर हाउस क्षेत्र (Tractor House Area) में निर्माणाधीन (Under Construction) एक इमारत (Building) से लोहे की सलाखें और भाले चुराने गए दो चोरों (Thief) में से एक की तीसरी मंजिल से गिरने पर मौत हो गई। पुलिस को जब हाईवे पर शव मिला तो पहले तो हत्या की आशंका जताई गई, लेकिन भद्रकाली पुलिस ने आनन-फानन में जांच का चक्कर घुमाया और मृतक चोर के साथी को ढूंढ़कर उससे जानकारी हासिल की।

    पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सोमवारी की सुबह साढ़े आठ बजे रात में गश्त करने वाले अधिकारी पुलिस उपनिरीक्षक धर्मेंद्र पवार पेट्रोलिंग कर रहे थे कि मुंबई-आग्रा महामार्ग पर अमृत विनायक बिल्डींग के सामने और महिंद्रा ट्रैक्टर के पास पोल नंबर ७3 से ७५ के बीच झाडियों में एक अज्ञात व्यक्ती की लाश मिलने की सूचना मिलते ही पुलिस उप निरीक्षक धर्मेंद्र पवार ने यह जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को दी। वरीष्ठ पुलिस निरीक्षक संभाजी निंबालकर, गुन्हा निरीक्षक दत्ता पवार, प्रशासन निरीक्षक दिलीप ठाकुर,  गुन्हा अनुसंधान दस्ते के सहायक पुलिस निर्देशक  ज्ञानेश्वर मोहिते, सहायक पुलिस निरीक्षक शिवाजी  आहिरे, संजय बिडगर, पुलिस उप निरीक्षक धर्मेंद्र पवार, जितेंद्र माली, विलास मुंढ, भास्कर गवली और पुलिस कर्मचारी तुरंत घटनास्थल पर पहुंचे।

    अज्ञात के शव का निरीक्षण करने पर पता चला कि उस के सिर के पिछले हिस्से पर चोट लगी थी और खून बह रहा था। पुलिस उपायुक्त संजय बरकुंड, अमोल तांबे, सहायक पुलिस कमिश्नर दीपाली खन्ना के मार्गदर्शन में मृतक चोर के साथी और दोस्त से जानकारी मिली। मृतक की पहचान 31 वर्षीय चंदू समा रहासे उर्फ भोला के रूप में हुई है। मृतक चंदू सामा रहासे उर्फ भोला ट्रैक्टर हाउस के पास स्टार लाइन न्यू बिल्डिंग की तीसरी मंजिल से फिसल कर गिर गया जब वह लोहे का भाला यार्ड चोरी करने गया था। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने घटना स्थल की जांच की। मृतक के साथीदार ने उसे इलाज के लिए ले जाने का प्रयत्न किया लेकिन आधी रात के समय असप्ताल ले जाने के लिए कोई सवारी नहीं मिली तो मृतक का दोस्त घबरा गया और उसे वहीं छोड़ कर भाग गया।