Permission not granted for AIMIM Chief Asaduddin Owaisi's rally in Mumbai, police said - there is a ban on public gatherings
File Photo

    मुंबई: मुंबई (Mumbai) में होनेवाली ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की रैली (Rally) को लेकर सस्पेंस बना हुआ है। खबर है कि, 27 नवंबर को मुंबई के बीकेसी में होनेवाली ओवैसी की रैली को मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने इजाज़त नहीं दी है जिसके बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि, ओवैसी की मुंबई में रैली टल सकती है। 

    एएनआई के अनुसार, एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी को 27 नवंबर को मुंबई के बीकेसी में रैली करने की अनुमति नहीं दी गई है। मुंबई पुलिस ने कहा है कि, कोरोना नियम, एमएमआरडीए मैदान में सार्वजनिक समारोहों पर प्रतिबंध और राज्य के कुछ जिलों में हाल ही में हुई हिंसा के मद्देनजर रैली को अनुमति नहीं दी गई है।

    बता दें कि, यूपी इलेक्शन से पहले ओवैसी एक्टिव मोड़ में नज़र आ रहे हैं। हाल ही में कृषि कानूनों की वापसी की पीएम मोदी की घोषणा को लेकर ओवैसी ने बड़ा एलान किया था। उन्होंने कहा था कि, महाराष्ट्र में मुस्लिमों को आरक्षण की मांग को लेकर उनकी पार्टी राज्य भर में आंदोलन करेगी।

    ‘दुआ फाउंडेशन’ और ‘सेंटर फॉर डेवलपमेंट पॉलिसी एंड प्रैक्टिस’ द्वारा महाराष्ट्र में मुस्लिमों की वर्तमान स्थिति पर औरंगाबाद में आयोजित एक सम्मेलन में हिस्सा लेने के बाद ओवैसी ने संवाददाताओं से बात की। 

    ओवैसी ने दावा किया था कि, अदालत ने स्वीकार किया है कि मुस्लिम समुदाय की 50 जातियों को आरक्षण दिया जाना चाहिए। बहरहाल, सभी राजनीतिक दल मराठा समुदाय का समर्थन कर रहे हैं, लेकिन कोई भी मुस्लिमों के आरक्षण के बारे में नहीं बोल रहा है।” उन्होंने कहा, ‘‘मुस्लिमों के लिए आरक्षण की मांग की खातिर हम महाराष्ट्र में आंदोलन करेंगे। हम चाहते हैं कि राज्य सरकार नागपुर विधानसभा सत्र के दौरान आरक्षण के लिए अध्यादेश लाए।