jail
Representative Photo

    पुणे: शहर में माथाडी कामगार (Mathadi Worker) के नाम पर उगाही का गोरखधंधा जोरों पर चल रहा है। ताजा मामले में माथाडी कामगार होने की धमकी देकर व्यवसायी से रंगदारी (Extortion) मांगने वाले दो लोगों को पुणे पुलिस (Pune Police) की एंटी एक्सटॉर्शन सेल ने गिरफ्तार कर लिया है। मामले में इफराज फिरोज शेख (30) और तुषार विष्णु आठवले (36) को पुलिस ने गिरफ्तार (Arrested) कर लिया है। मामले की शिकायत येरवडा पुलिस स्टेशन (Yerwada Police Station) में दर्ज किया गया है। 

    ताजा मामला विमान नगर इलाके का है, जहां दुकानों पर चाय, कॉफी मटेरियल सप्लाई करने वाले व्यवसायी का कामगार फिल्ड बिल्डिंग के आउट गेट पर आया था। उसी दौरान आरोपियों ने उसकी गाड़ी रोक दी और कहने लगे कि वे माथाडी कामगार हैं, पर माथाडी के कोई भी काम नहीं करेंगे। लेकिन वे एक ट्रिप का 500 रुपए, जबकि महीने के 3 हजार रुपए की मांग किया करते थे। उन्होंने धमकी दी कि जब तक वह पैसे नहीं देगा वे उसकी गाड़ी अंदर नहीं जाने देंगे। इसी प्रकार व्यवसायी को बार-बार 3 हजार रुपए रंगदारी देने के लिए धमकी दी जा रही थी।

    पुलिस ने जाल बिछाकर पकड़ा 

    परेशान होकर व्यवसायी ने पुलिस के एंटी एक्सटॉर्शन सेल में शिकायत दर्ज करवा दी। वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक बालाजी पांढरे ने मामले की जांच शुरू की तो पता चला की वे रंगदारी मांग रहे थे। जिसके बाद टीम ने जाल बिछाकर इफराज और तुषार नाम के आरोपियों को तीन हजार रुपए लेते रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। जांच के बाद दोनों पर मामला दर्ज किया गया और आगे की कार्रवाई के लिए येरवडा पुलिस स्टेशन को सुपुर्द कर दिया गया।  यह कार्रवाई एंटी एक्सटॉर्शन सेल पुलिस निरीक्षक बालाजी पांढरे, उपनिरीक्षक श्रीकांत चव्हाण, पुलिस अंमलदार विजय गुरव,  शैलेश सुर्वे, राहुल उत्तरकर, संग्राम शिनगारे, सचिन अहिवले, अमोल पिलाने और उनकी टीम ने की।