sanjay-raut
Pic: ANI

    नई दिल्ली/मुंबई. महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में नयी सरकार के गठन के बाद आज भी बयानबाजी का दौर लगातार जारी है। इस बीच आज शिवसेना (Shiv Sena) नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने कहा है कि, मुझे भी गुवाहाटी जाने का प्रस्ताव मिला था। लेकिन मैं बालासाहेब ठाकरे का अनुसरण करता हूं इसलिए मैं वहां नहीं पहुंचा। 

    वहीं ED के पूछताछ के संबंध में संजय राउत ने कहा कि, “जब सच्चाई आपके पक्ष में है, तो आपको किस बात का डर ? उनके मन में यह भी शंका थी, टाइमिंग की थोड़ी समस्या है कि यही टाइमिंग आखिर क्यों ? वैसे मैं 10 घंटे तक उनके साथ रहा हूँ।”

    ED के बारे में शिवसेना नेता संजय राउत ने बताया कि, “ED ऑफिसर्स मेरे साथ बहुत अच्छे से पेश आए। मैंने सभी माकूल प्रश्नों का जवाब दिया। मैंने उन्हें यह भी कहा कि यदि आपको लगता है कि मुझे वापस आना चाहिए तो मैं फिर आ जाऊंगा।” उन्होंने यह भी कहा कि, वे इस देश हे एक ज़िम्मेदार नागरिक हैं। हालाँकि सांसद होने की वजह से उनका ये परम कर्तव्य है कि जब देश की कोई भी जांच एजेंसी उन्हें बुलाती है तो वे उनके समक्ष जाकर अपना बयान दें।”

    गौरतलब है की ED ने संजय राउत से मुंबई की एक ‘चॉल’ के पुन: विकास और राउत की पत्नी तथा दोस्तों से दुसरे संबंधित वित्तीय लेनदेन से जुड़ी मनी लॉन्‍ड्रिंग जांच के सिलसिले में पूछताछ के लिए उन्हें तलब किया था।