Center will be set up to measure air quality in Ulhasnagar

    उल्हासनगर. उल्हासनगर (Ulhasnagar) में वायु गुणवत्ता नापने के लिए वायु गुणवत्ता गणना केंद्र स्थापित किया जाएगा।  इस कार्य का भूमिपूजन महाराष्ट्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (Maharashtra Pollution Control Board) के अधिकारियों और उल्हासनगर महानगरपालिका (Ulhasnagar Municipal Corporation) संयुक्त रूप से किया है। केंद्रीय वन और पर्यावरण मंत्रालय के स्वच्छ वायु कार्यक्रम के तहत सबसे ज्यादा वायु प्रदूषण (Air Pollution) वाले देश के 100 शहरों का चयन किया गया है। इस योजना में अगले तीन साल में वायु प्रदूषण में 35 फीसदी और शहर में पांच साल में 50 फीसदी तक कम करने का लक्ष्य रखा गया है।  इसमें उल्हासनगर शामिल है।  यह केंद्र गोलमैदान क्षेत्र में स्थापित किया जाएगा और तीन महीने में चालू हो जाएगा।  

    एमपीसीबी अधिकारी वाघमारे ने बताया है कि शहर के आसपास हवा की गुणवत्ता जांचने, इसके पीछे के कारणों का पता लगाने और उसके अनुसार गुणवत्ता सुधारने की योजना बनाने जैसे तीन चरणों में स्वच्छ वायु कार्यक्रम लागू किए जाएंगे।  

    प्रदूषण की मिलेगी जानकारी

    इस अवसर पर एमपीसीबी अधिकारी प्रमोद लोने  सहित महानगरपालिका के अधिकारी उपस्थित थे।  इस परियोजना को लगातार परीक्षण से गुजरना होगा।  इसके चलते किसी भी कंपनी द्वारा जहरीले रसायन छोड़ने, प्लास्टिक जलाने, टायर जलाने, शहर में केमिकल टैंकर छोड़ने की जानकारी तुरंत मिल जाएगी।