Yeoor Hill
file

    ठाणे: ठाणे शहर (Thane City) में चल रहे अवैध बारों पर कार्रवाई करने के बाद ठाणे महानगरपालिका (टीएमसी) का अतिक्रमण विभाग येऊर के अवैध ढाबों और बंगलों पर कार्रवाई करने का निर्णय लिया है। इसके लिए महानगरपालिका अतिक्रमण विभाग (TMC Encroachment Department) की तरफ से सोमवार से सर्वेक्षण (Survey) का काम शुरू किया जाने वाला है।  

    गौरतलब है कि शहर का एकमात्र प्राकृतिक वादियों से घिरे येऊर हिल्स (Yeoor Hill) पर पिछले कुछ वर्षों में बड़ी संख्या में ढाबों और होटलों का संचालन हो रहा है, वहीं बड़े पैमाने पर अवैध बंगले भी बनाए गए है। ऐसे में अब टीएमसी के अतिक्रमण विभाग अपने सर्वेक्षण में यह पता लगाएगी कि इसके पहले महानगरपालिका प्रशासन द्वारा जिन ढाबों और होटलों पर कारवाई की गई थी क्या फिर ने ऐसे होटल और ढाबों पर अवैध निर्माण किया गया है और वर्तमान समय में कितने अवैध ढाबे और होटल शुरू है। यह जानकारी महानगरपालिका के अतिक्रमण विभाग के सहायक आयुक्त महेश आहेर ने देते हुए कहा कि टीएमसी कमिश्नर डॉ. विपिन शर्मा के आदेशानुसार आगे की कार्रवाई शुरू की जाएगी।   

    येऊर में बने बड़ी संख्या में होटल और बंगले

    येऊर यह संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान का हिस्सा है और इसे पर्यावरणीय संवेदनशील क्षेत्र घोषित किया गया है। वन क्षेत्र में होने वाले अतिक्रमण और इससे वन्य जीव को निर्माण होने वाले परेशानियों को दूर करने के लिए केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय ने जारी वन्य जीव-मानव संघर्ष को रोकने के लिए येऊर को बफर जोन घोषित करते हुए परिसर में 100 मीटर तक निर्माण पर प्रतिबंध लगाने वाला अध्यादेश जारी किया है।  इसके बावजूद इस जगह पर बड़ी संख्या में अनाधिकृत रूप से बंगले और होटल व ढाबे शुरू कर दी गई है।  साथ ही पिछले 3 वर्षों में यह देखा गया है कि येऊर में बड़ी संख्या में निर्माण कार्य हुए हैं। 

    नए  निर्माण किए जा रहे 

    इनमें से अधिकांश निर्माण ठाणे और मुंबई में प्रतिष्ठित राजनीतिक नेताओं, कार्यकर्ताओं, सेवानिवृत्त अधिकारियों, विद्यमान और पूर्व नगरसेवकों के स्वामित्व की इमारतें हैं। पिछले कुछ वर्षों में पर्यावरण गैर सरकारी संगठनों और येऊर निवासियों की बार-बार शिकायतों के बावजूद, प्रशासन के कुछ अधिकारियों के मिलीभगत से नए निर्माण किए जा रहे हैं।  

    फिर उठेगा येऊर के अवैध बंगले का मसला

    ठाणे महानगरपालिका की इस कार्रवाई की पृष्ठभूमि में येऊर क्षेत्र में शुरू हुए 15 बंगलों का मसला भी फिर से गर्म होने का संकेत है।  इससे पहले ठाणे महानगरपालिका की महासभा में आरोप लगाया गया था कि येऊर में बंगलों पर अनाधिकृत रूप से काम शुरू किया गया है,  लेकिन महानगरपालिका की तरफ से कोई कदम नहीं उठाया गया था,  लेकिन अब ऐसे संकेत हैं कि महानगरपालिका द्वारा संभावित कार्रवाई की पृष्ठभूमि के खिलाफ ये बंगले भी रडार पर हैं।