Vaccination
File Pic

    यवतमाल. कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक लेने के बाद भी कई लोगों ने निर्धारित अवधि के बाद भी  दूसरी खुराक नहीं ली है. जिलाधिकारी अमोल येडगे ने तहसील प्रशासन को दो दिन एक विशेष टीकाकरण केंद्र शुरू करने और संबंधित पात्र नागरिकों को तहसील नियंत्रण कक्ष के माध्यम से टेलीफोन द्वारा अपील करने तथा दूसरी खुराक देने के निर्देश दिए.

    उन्होंने मंगलवार को सुबह बाभुलगांव, कलंब और रालेगांव तहसील का दौरा किया. तत्पश्चात वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी तहसील के अधिकारियों से बातचीत की. कोविड प्रतिबंधात्मक उपाययोजना, टीकाकरण, कोरोना के संभावित तीसरे लहर के तहत पूर्व तैयारी, खाद, बीज की उपलब्ध व किसानों को फसल कर्ज वितरण आदि का जायजा लिया.

    उपलब्ध कराएंगे बीज व खाद

    जिलाधिकारी ने ग्रामीण क्षेत्रों के साथ ही आदिवासी क्षेत्रों में भी लोगों में कोरोना का टीका लगवाने के लिए जागरूकता कर टीकाकरण अभियान को बढ़ाने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि दो दिनों में बाभुलगांव में प्रचुर मात्रा में बीज व यूरिया उपलब्ध कराया जाएगा. राष्ट्रीयकृत बैंकों को फसल कर्ज के लक्ष्य को पूरा करने के लिए किसानों के दरवाजे पर जाने, एनपीए और ओटीएस योजनाओं के बारे में सूचित करने और किसानों को अधिकतम ऋण प्राप्त करने के लिए आवश्यक सहायता प्रदान करने का निर्देश दिए.

    इस समय उपविभागीय अधिकारी अनिरुद्ध बक्षी, शैलेश काले, तहसीलदार विवेक कुमरे (बाभुलगांव), डा. सुनील चव्हाण (कलंब), रवींद्र कुमार कानडजे (रालेगांव), पुलिस निरीक्षक वडगांवकर, मुख्यधिकारी नंदू परलकर, संबंधित समूह विकास अधिकारी, तहसील स्वास्थ्य अधिकारी के साथ-साथ राजस्व, स्वास्थ्य, पुलिस, कृषि और नगर परिषद के अधिकारी सहित बैंकों के प्रतिनिधि उपस्थित थे.