Roads getting worse due to overloaded vehicles; The possibility of accident remains, the administration is not paying attention

    वणी. तहसील के अधिकांश मार्गो का चौडाईकरण और फोरलेन होने के बाद से वाहनो की गति बढ गई है. सडक अच्छी होने की वजह से अब अनेक कंपनी वाले कम लागत मे अधिक माल ढुलाई के लिए वाहनो मे ओवरलोडेड माल भर रहे है. इसकी वजह से सडके बदहाल होती जा रही है. साथ ही वाहनो के हेडलाइन से छोटे वाहन चालको की आंखे चुंधिया जाने से दुर्घटना की आशंका बनी रहती है. इसलिए ओवरलोड परिवहन बंद कर वाहनो की हेडलाइट के आधे हिस्से मे काफी फिल्म लगाने की मांग नागरीको व्दारा की जा रही है.

    क्षमता से अधिक लदा होता है माल

     तहसील मे कई कोयला खदाने, सीमेंट प्लांट एवं अन्य उद्योग है. यहा के उद्योगो मे कच्चा माल लेकर आने और तैयार माल को ले जाने के जाने प्रमुख रूप से सडक मार्ग का उपयोग किया जाताहै. सडक मार्ग से ट्रको की सहायता से माल की ढुलाई की जाती है. किंतु कई ट्रांसपार्टर कम खर्च मे अधिक माल ढुलाई के उद्देश्य से वाहनो मे ओवरलोडेड माल भरते है. जो सडको की क्षमता से कई गुना अधिक होता है. इसकी वजह से सडको की हालत बदहाल होती जाती है. किंतु इस और वाहन मालिक अथवा ट्रांसपोर्टर कोई ध्यान नही देता है. नतीजा दुर्घटनाओ की आशंका बनी रहती है. 

    हेडलाइड के आधे हिस्से मे लगाए काली फिल्म

    रात के समय पर अधिकांश वाहनो की गति अधिक होती है. वणी_नागपुर महामार्ग और वणी_घुग्घुस महामार्ग की सडक के डिवाइडर पर पौधारोपण नही किया गया है. इसकी वजह से दोनो दिशा से आने वाले वाहनो की हेडलाइड का प्रकाश एक_दूसरे की आंखो पर पडता है. इसकी वजह से चालक की आंखे चुंधिया जाने से दुर्घटना की आशंका बनी रहती है. यदि वाहनो की हेडलाइन के आधे हिस्से मे काली फिल्म लगा दी जाए, तो इस प्रकार की दुर्घटना से बचा जा सकता है. 

    बना लिया अघोषित पार्किंग जोन

    लालपुलिया मे  ट्रांसपोर्टरो ने शहर के बाहर की अघोषित पार्किंग जोन बना लिया है. उसी प्रकार चालक लोग जहा रहते है. उस शहर के बाहर ही अपने ट्रको को खडा कर देते है. इसकी वजह से वाहनो के दुर्घटना की आशंका बनी रहती है.इसलिए इस प्रकार के अघोषित पार्किंग जोन पर पाबंदी लगाने की मांग की गई है. 

     बिना तिरपाल के कोयले की ढुलाई

    तहसील मे कोयला खदानो की संख्या अधिक है. कोयला खदानो से निकलने वाले कोयले को ट्रको की सहायता से रेलवे साइडींग पर लाकर ट्रेन के वैगन मे लोड किया जाता है. किंतु देखा गया है कि अनेक ट्रक चालक बिना तिरपाल से कोयला ढंके कोल परिवहन करते है. इसकी वजह से ट्रको से कोयला गिरता चला जाता है.