Sidhu Moosewala
Photo Credit - Ajay Devgan Twitter

    नई दिल्ली: पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Moose Wala) के मर्डर केस में दिल्ली पुलिस सेल को बड़ी सफलता हाथ आई है। सिद्धू पर ताबड़तोड गोलियां चलाने वाले तीन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार किए गए लोगों में दो शूटर भी शामिल हैं। वहीं, इनसे बड़ी मात्रा में हथियार और विस्फोटक सामान बरामद हुआ है। पुलिस ने इन तीनों आरोपियों को गुजरात के कच्छ से गिरफ्तार किया है। जानकारी के अनुसार, इन्हीं शूटर ने सिद्धू मूसेवाला पर गोलियां चलाई थी।

    स्पेशल सीपी ने यह भी जानकारी दी है कि, 19 तारीख को सेल ने गुजरात के मुंद्रा पोर्ट के पास से आरोपियों को अपनी गिरफ्त में लिया है। आरोपियों ने एक मकान किराए पर लिया हुआ था। जहां से 8 ग्रेनेड, ग्रेनेड लांचर, 9 इलेक्ट्रॉनिक डेटोनेटर भी पुलिस ने बरामद किए हैं। वहीं हरियाणा के हिसार जिले से हथियार बरामद किए हैं। गिरफ्तार किए गए 3 आरोपियों में से एक घटना के वक्त मुख्य साजिशकर्ता गोल्डी बराड़ के संपर्क में था।

    गिरफ्तार किए गए एक शूटर का नाम प्रियव्रत उर्फ फौजी है जो सोनिपत हरियाणा का रहने वाला है। पुलिस के मुताबिक ये ही सिद्धू मूसेवाला की हत्या का मास्टरमाइंड है। वहीं स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद सिंह कुशवाहा के अनुसार, प्रियव्रत ने ही सिद्धू मूसेवाला की हत्या की साजिश की थी। जबकि हत्या की प्लानिंग के समय प्रियव्रत फौजी गोल्डी बराड़ के संपर्क में था।

    प्रियव्रत मूसेवाला की हत्या से पहले फतेहगढ़ के एक पेट्रोल पंप के सीसीटीवी में नजर आया था। वहीं गिरफ्तार किए गए दूसरे शूटर का नाम कशिश कुलदीप है। वह महज़ 24 साल का है और हरियाणा के झज्जर जिले के सज्यान पाना गांव का रहने वाला है। इसे भी घटना के पहले फतेहगढ़ के पेट्रोल पंप के सीसीटीवी फुटेज में देखा गया था। यह 2021 में हरियाणा के झज्जर में हुई एक हत्या में भी शामिल है। 

    दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने जिस तीसरे शक्स को गिरफ्तार किया है, उसका नाम केशव कुमार है। यह बठिंडा पंजाब का रहने वाला है। इस आरोपी ने ही सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद सभी शूटर्स को भागने में मदद की थी। इसके पास से काफी विस्फोटक और हथियार बरामद हुए हैं। फ़िलहाल स्पेशल सेल इन तीनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

    गोली मारकर की थी हत्या 

    जानकारी के लिए बता दें कि, पंजाब के मशहूर सिंगर सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Moose Wala) की 29 मई की शाम पंजाब के मानसा (Mansa) जिले में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। जिसके बाद लॉरेंस बिश्नोई गैंग (Lawrence Bishnoi) ने इस हत्या की जिम्मेदारी ली थी. बिश्नोई एक मामले में दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है। लॉरेंस बिश्नोई के गिरोह के कनाडाई मूल के सदस्य गोल्डी बराड़ (Goldy Brar) ने सोशल मीडिया फेसबुक में एक पोस्ट शेयर कर हत्या की जिम्मेदारी ली थी।