Tej Pratap, Rabdi Devi and Tejashwi Yadav

    पटना. राष्ट्रीय जनता दल में वर्चस्व को लेकर लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के दोनों बेटे- तेज प्रताप (Tej Pratap) और तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के बीच घमासान जारी है। पार्टी में लगातार दरकिनार किए जाने पर तेज प्रताप ने बगावत का बिगुल फूंक दिया है। एक ओर जहां उन्होंने कांग्रेस के उम्मीदवार के समर्थन में प्रचार करने का ऐलान कर दिया है। वहीं दूसरी तरफ तारापुर विधानसभा सीट पर अपने समर्थक को चुनावी मैदान में उतार दिया है। दोनों भाइयों के बीच मतभेद इतने बढ़ गए हैं कि अब मामल लालू और राबड़ी देवी के हाथ से भी निकल चूका हैं। जिसका ताजा उदाहरण आज जय प्रकाश नारायण की जयंती पर दिखा।

    नहीं लिया माँ का आशीर्वाद

    दरअसल जेपी की 119वीं जयंती के मौके पर तेज प्रताप ने पदयात्रा का ऐलान किया था। इस पदयात्रा की घोषणा करते हुए उन्होंने कहा था कि वह इसकी शुरुआत अपनी माता का आशीर्वाद लेकर करेंगे। लेकिन तेज प्रताप ने बिना माँ का आशीर्वाद लिए यह पदयात्रा की। तेज प्रताप की जनशक्ति यात्रा पटना के गांधी मैदान से जेपी आवास तक हुई। गांधी मैदान स्थित जेपी की मूर्ति पर सोमवार को माल्यार्पण किया और फिर जय प्रकाश नारायण के कदम कुआं स्थित घर तक नंगे पांव पद यात्रा की। इस दौरान पदयात्रा के रस्ते में ही राबड़ी देवी का घर था लेकिन तेज प्रताप वहा रुके बिना ही सीधा निकल गए।

    दोनों बेटों में चल रही लड़ाई सुलझाने पहुंची राबड़ी देवी

    दोनों बेटों में चल रही लड़ाई के बीच रविवार को राबड़ी देवी करीब तीन महीने बाद पटना पहुंची। वह एयरपोर्ट से सीधे अपने बड़े बेटे तेज प्रताप के सरकारी आवास पर गई। ऐसा माना जा रहा है कि वह पटना अपने दोनों बेटों के बीच चल रही लड़ाई को सुलझाने के लिए पहुंची है। हालांकि, सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उनकी मुलाकात तेज प्रताप से नहीं हो सकी। उनके आने के पहले ही तेज प्रताप बाहर चले गए थे।

    तेज प्रताप ने तेजस्वी के करीबी पर कसा तंज

    इससे पहले रविवार को तेज प्रताप ने तेजस्वी के करीबी संजय यादव के उपचुनाव के लिए पर्चा भरने और फिर नामांकन वापस लेने पर तंज कसा था। तेज प्रताप ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर लिखा, “मेरे लिए चुनाव में आदरणीय तेज प्रताप यादव जी प्रचार करेंगें-संजय यादव, जनता के लिए संजय यादव जी ने अपनी उम्मीदवारी वापिस ली-पार्टी, ना मैंने कुछ कहा ना लिखा तो इसमें मेरा क्या रोल था या है? हरियाणवी स्क्रिप्‍ट राईटर तुम ये फालतू की सी ग्रेड कहानी कहीं और लिखना, बिहारी सब समझते हैं।”

    कांग्रेस किया दावा उपचुनाव में तेज प्रताप करेंगे हमारा समर्थन

    लालू परिवार में चल रहे घमासान के बीच कांग्रेस ने बड़ा दावा किया है। बिहार कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष  और बिहार सरकार के पूर्व मंत्री अशोक कुमार ने कहा कि तेजप्रताप वहां उनके बेटे कुशेश्‍वरस्‍थान से कांग्रेस प्रत्‍याशी अतिरेक कुमार के समर्थन में चुनाव प्रचार करेंगे।