telangana-cm-k-chandrasekhar-rao

    महबूबनगर: तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने रविवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि राज्य सरकार को उखाड़ कर फेंक दिया जाएगा। राव ने दावा किया कि कुछ लोग तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के विधायकों को विभाजित करने आए हैं और इसके साजिशकर्ताओं को जेलों में डाल दिया गया है।

    यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि अगर केंद्र सरकार का सहयोग होता तो सकल राज्य घरेलू उत्पाद (जीएसडीपी) 11.50 लाख करोड़ रुपये के बजाय 14.50 लाख करोड़ रुपये होता। केंद्र के सहयोग नहीं करने से तीन लाख करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। उन्होंने परोक्ष रूप से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का जिक्र करते हुए कहा कि आज देश की जीवन रेखा को तुच्छ राजनीतिक लाभ के लिए खराब किया जा रहा है और विपक्षी नेताओं के खिलाफ हमले के अलावा लोगों में नफरत फैलाई जा रही है।

    केसीआर के नाम से प्रसिद्ध के चंद्रशेखर राव ने कहा, ‘‘ प्रधानमंत्री कहते हैं केसीआर, मैं आपकी सरकार को बर्खास्त कर दूंगा। इससे हमें क्या समझना चाहिए? क्या हम आपकी तरह चुनी हुई सरकार नहीं हैं? क्या हम लोगों के जनादेश के बिना जीते हैं? आप किस वजह से मेरी सरकार को बर्खास्त करेंगे। क्या कोई प्रधानमंत्री पश्चिम बंगाल जाकर कह सकता है कि आपके 40 विधायक हमारे संपर्क में हैं। क्या वह ऐसा कह सकता है? ”

    राव ने कहा कि यह जनता तय करेगी कि किसकी क्या भूमिका होनी चाहिए कि वह शासन करे या विपक्ष में बैठे, और सत्ताधारी सरकार को इसमें दखल दिए बिना पांच साल तक काम करने दिया जाना चाहिए। उन्होंने कृष्णा नदी के पानी के राज्य के हिस्से पर कथित रूप से स्पष्ट रूप से सामने नहीं आने के लिए केंद्र की राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार की आलोचना की।

    अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए उन्होंने कहा कि गुजरात में भी 24 घंटे बिजली की आपूर्ति नहीं है और पश्चिमी राज्य में अभी भी पीने के पानी की सुविधाओं की कमी है। केसीआर ने कहा, ‘‘ गुजरात में भी 24 घंटे बिजली आपूर्ति और पीने के पानी की सुविधा पूरी तरह से दुरुस्त नहीं है। राष्ट्रीय राजधानी में भी बिजली कटौती होती है और पीने के पानी की कमी है।” (एजेंसी)