File Photo
File Photo

  • योगी सरकार पहले ही कर चुकी है राशन वितरण अभियान को बढ़ाने का ऐलान
  • 'अंत्योदय' और पात्र घरेलू राशन कार्डधारकों को मिलेगा सीधा फायदा
  • यूपी के लोगों को दिसंबर से मिलेगा 10 किलो मुफ्त अनाज
  • दालें, खाद्य तेल और नमक भी मिलेगा राशन दुकानों से मुफ्त
  • बायोमेट्रिक प्रणाली के जरिये राशन दुकानों से किया जाएगा खाद्यान्न वितरण

लखनऊ : प्रदेश के 15 करोड़ से अधिक राशन कार्ड धारकों (Ration Card Holders) को सरकार (Government) मुफ्त राशन (Free Ration) की डबल डोज देने जा रही है। यूपी के लोगों को राशन दुकानों से दोगुना मुफ्त राशन मिलेगा। योगी सरकार (Yogi Government) के बाद केंद्र सरकार ने भी पीएमजीकेएवाई (PMGKAY) के तहत मुफ्त राशन वितरण अभियान (Free Ration Distribution Campaign) को मार्च तक बढ़ा दिया है। 

केंद्र सरकार के फैसले के बाद अब यूपी के पात्र कार्ड धारकों को हर महीने 10 किलो राशन मुफ्त मिलेगा। केंद्र ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को मार्च 2022 तक बढ़ा दिया है। राशन कार्ड धारकों को महीने में दो बार गेहूं और चावल मुफ्त मिलेगा । दाल, खाद्य तेल और नमक भी मुफ्त दिया जाएगा। कोविड काल से चल रहे मुफ्त राशन वितरण के जरिये सरकार आर्थिक रूप से कमजोर गरीबों, मजदूरों को बड़ा सहारा देने की योजना पर काम कर रही है।

महामारी के दौर में शुरू हुई प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना नवंबर में खत्म हो रही थी इसको देखते हुए सीएम योगी ने 3 नवंबर को अयोध्या में राज्‍य सरकार की ओर से होली तक मुफ्त राशन वितरण की घोषणा की थी। अंत्योदय राशन कार्डधारकों और पात्र परिवारों को दिसंबर से दोगुना राशन वितरण किया जाएगा। अंत्योदय अन्न योजना के तहत लगभग 1,30,07,969 इकाइयां और पात्र घरेलू कार्डधारकों की 13,41,77,983 इकाइयां प्रदेश में हैं ।

केन्‍द्र और राज्‍य सरकार की ओर से कोरोना काल के दौरान शुरू हुए राशन वितरण में अप्रैल 2020 से अक्‍टूबर 2021 तक कुल 122 लाख मीट्रिक टन खाद्यान्‍न वितरित कर रिकार्ड कायम किया गया था। इसमें राज्‍य सरकार की ओर से अप्रैल 2020 से अगस्‍त 2021 तक 2339556.740 मीट्रिक टन अनाज वितरित किया गया जबकि पीएमजीकेएवाई के तहत अप्रैल 2020 से अक्‍टूबर 2021 तक 9853889.085 मीट्रिक टन राशन बांटा गया था। प्रदेश सरकार कोरोना काल में गरीब और बेसहारा लोगों का बड़ा संबल बनी है। प्रदेश सरकार ने 80 हजार कोटेदारों के माध्‍यम से राशन वितरण अभियान को हर गरीब और बेसहारा लोगों तक पहुंचाने का काम किया है।