रात 10 बजे तक का बाजार खुले रखने की मिले अनुमति

उल्हासनगर. कोरोना के प्रारंभिक समय से अन्य शहरों की तरह उल्हासनगर मनपा क्षेत्र के भी सभी होटल बंद हैं. लगभग साढ़े 6 महीने के लंबे अर्से के बाद 5 अक्टूबर से हॉटेल्स, रेस्टोरेंट, फ़ूडकोर्ट और बार को नियम व शर्तों के के आधार पर सुबह 9 बजे से रात 10 बजे तक शुरू रखने की परमिशन उल्हासनगर मनपा आयुक्त डा. राजा दयानिधि द्वारा दी गयी है. इसी  तरह से शहर के दुकानदारों को भी रात 10 बजे तक दुकानें खुली रखने की अनुमति दिए जाने की मांग उल्हासनगर ट्रेड एसोसिएशन ने की है.

उक्त मांग के संदर्भ में यूटीए के कार्याध्यक्ष दीपक छतलानी ने मंगलवार को ‘नवभारत’ को बताया कि वर्तमान समय में दुकानों को सुबह 9 से शाम 7 बजे तक का समय निर्धारित किया गया है. छतलानी का कहना है जिस प्रकार होटल वालों को रात 10 बजे तक का टाइम निश्चित किया गया है उसी तर्ज पर कपड़े, लकड़ी के फर्नीचर, इलेक्ट्रॉनिक्स, ज्वेलरी, स्टील फर्नीचर, रेडीमेड, मिठाई, किराना, हार्डवेयर आदि दुकानों को रात 10 तक समय दिया जाना चाहिए.

इसके पीछे का मकसद बताते हुए दीपक छतलानी ने कहा कि इसी महीने नवरात्रि व दशहरा का पर्व है, उसके तुरंत बाद नवंबर में देश का सबसे बड़ा पर्व दिवाली का त्यौहार है. व्यपारी वर्ग लॉकडाउन के कारण बुरी तरह प्रभावित हुआ है. इन त्योहारों से दुकानदारों को उम्मीद है. शाम 7 बजे मार्केट बंद हो जाने से  ग्राहकों को खरीददारी का समय नहीं मिल पाता है.