warehouse burnt to ashes in Bhiwandi, adjoining huts also damaged

    भिवंडी. चाविंद्रा (Chavindra) क्षेत्र स्थित भुसावर कम्पाउंड (Bhusawar Compound) में एक कार्टून, पुट्ठा गोदाम में अचानक आग (Fire) लग गई। भीषण आग की चपेट में आकर गोदाम (Warehouse) में रखा हुआ लाखों रुपए का कार्टून, पुट्ठा जलकर स्वाहा हो गया है। सूचना के उपरांत घटनास्थल पर पहुंची फायरकर्मियों की टीम ने कड़ी मेहनत के उपरांत आग बुझाए जाने में कामयाबी हासिल की। उक्त अग्निकांड में कोई जनहानि नहीं होने से क्षेत्रीय लोगों ने राहत की सांस ली है।

    मिली जानकारी के अनुसार, चाविंद्रा पावरलूम क्षेत्र स्थित भुसावर कम्पाउंड में दोपहर करीब 3 बजे के उपरांत एक पुट्ठा, कार्टून के बन्द गोदाम में अचानक आग की लपटें उठनी शुरू हुई जो देखते-देखते ही विकराल रूप धारण कर लिया। भीषण आग की चपेट में आकर आसपास स्थित 2-3 झोपड़ियां भी क्षतिग्रस्त हो गई हैं।

    कोई जनहानि नहीं

    घटना की सूचना मिलते ही मनपा फायरकर्मियों की टीम फौरन घटनास्थल पर पहुंची और कड़ी मेहनत और सूझबूझ से आग को बुझाए जाने में कामयाबी हासिल की। उक्त हादसे में कोई जनहानि की खबर नहीं है। स्थानीय लोगों का आरोप है कि सूचना के उपरांत भी फायर ब्रिगेड की टीम काफी देर से आई जिससे काफी नुकसान हुआ है। पुट्ठा, भंगार की गोदाम में हुए अग्निकांड की घटना से समूचे क्षेत्र में कारखानों, गोदामों, दुकानों की सुरक्षा को लेकर हड़कम्प मचा है। आग लगने के कारणों का अभी तक कोई खुलासा नहीं हो पाया है। क्षेत्रीय पुलिस आगजनी का मामला दर्ज कर मामले की सच्चाई तलाश रही है।

    मार्च में आग लगने की घटनाओं में वृद्धि 

    गौरतलब है कि भिवंडी पावरलूम नगरी में मार्च माह में गर्मी का मौसम आते ही आग लगने की घटनाओं में एकाएक वृद्धि हो जाती है। आग की घटनाओं का प्रमुख कारण कारखानों, गोदामों, वेयरहाउसों आदि में शासन के निर्देशों का उल्लंघन कर अनियंत्रित तरीके से भारी तादाद में माल जमा किया जाना बताया जाता है। कभी-कभार अग्निकांड की चपेट में आकर निरपराध गरीब मजदूरों की जान भी चली जाती है। सूत्रों की माने तो अग्निकांड का कुछ पार्ट बीमा की रकम डकारने के लिए भी खेला जाता है जो सर्वविदित है। अग्निकांड की घटनाओं की उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए।