akhilesh

लखनऊ. समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार (Yogi Adityanath Government) की बहुप्रचारित मुहिम ‘मिशन शक्ति’ (Mission Shakti) को भ्रामक प्रचार का इश्तेहार करार दिया है।

अखिलेश ने सोमवार को यहां कहा, “जब बच्चियों से दुष्कर्म की घटनाओं की बाढ़ आने से भाजपा सरकार की बदनामी देश-विदेश तक होने लगी तो मुख्यमंत्री ने मिशन शक्ति के नाम पर भ्रामक प्रचार का एक और इश्तेहार पेश कर दिया है।”

उन्होंने कहा कि प्रदेश की हर बेटी को इस सवाल के जवाब का इंतजार है कि ऐंटी रोमियो स्क्वाड को मुख्यमंत्री ने कहां छुपा दिया है? समाजवादी सरकार ने 1090 हेल्पलाइन को नारी शक्ति की सुरक्षा का कवच बनाया था, मगर भाजपा ने उसको निष्प्रभावी बना दिया।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गत शनिवार को बलरामपुर जिले से ‘मिशन शक्ति’ योजना की शुरुआत की थी। महिलाओं और बेटियों की सुरक्षा तथा सशक्तीकरण के लिए समर्पित यह अभियान शारदीय नवरात्र से वासंतिक नवरात्र तक चलेगा। अखिलेश ने कहा कि प्रदेश की जनता ने ‘‘प्रपंची” भाजपा जैसी दूसरी कोई सरकार नहीं देखी है।

भाजपा समाजवादी सरकार के विकास कार्यों के लिए उसको श्रेय नहीं देना चाहती। वह अपने चौथे साल में भी अपनी एक भी योजना लागू नहीं कर सकी है सिवाय समाजवादी सरकार के समय के हुए कामों पर अपने उद्घाटन के शिलालेख लगाने के। (एजेंसी)