यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस की तैयारी शुरू, प्रियंका गांधी ने वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक कर रणनीति पर की चर्चा

    नयी दिल्ली: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandh) ने सोमवार को उत्तर प्रदेश से जुड़े पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक की जिसमें आगामी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) की तैयारियों और रणनीति को लेकर चर्चा की गई। उत्तर प्रदेश कांग्रेस सलाहकार परिषद और रणनीतिक समूह की इस डिजिटल बैठक में प्रियंका ने महंगाई, पंचायत चुनाव के दौरान हुई हिंसा, महिला विरोधी अपराधों और कुछ अन्य मुद्दों को लेकर राज्य की भाजपा सरकार पर निशाना साधा। 

    आधिकारिक बयान के मुताबिक, बैठक में यह फैसला किया गया कि महंगाई, बेरोजगारी एवं ‘जंगलराज’ के खिलाफ उप्र कांग्रेस सड़कों पर और मजबूती से उतरेगी। उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव है। इस बैठक से एक दिन पहले रविवार को प्रियंका गांधी ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के साथ भी बैठक की थी। बघेल के उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए रणनीति और बूथ प्रबंधन के साथ कांग्रेस संगठन को तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की संभावना है। 

    कांग्रेस की सोमवार को इस डिजिटल बैठक में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजीव शुक्ला, सलमान खुर्शीद, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, विधायक दल की नेता अराधना मिश्रा और कई अन्य वरिष्ठ नेता शामिल हुए। आधिकारिक बयान के मुताबिक, इस बैठक में कांग्रेस महासचिव ने महंगाई, कोरोना, पंचायत चुनावों, संगठन प्रशिक्षण शिविरों पर चर्चा की प्रियंका ने कहा, ‘‘बढ़ती महंगाई से जनता परेशान है पेट्रोल-डीजल, सरसों तेल, फल-सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं…छुट्टा जानवरों से किसान बेहाल हैं। किसानों की लागत दुगुनी हो गई, लेकिन आय घट गई है।” 

    उन्होंने पंचायत चुनाव के दौरान हुई हिंसा का उल्लेख करते हुए कहा, ‘‘भाजपा कार्यकर्ताओं ने हिंसा बम, पत्थर, और गोलियां चलाईं।” आधिकारिक बयान के मुताबिक, उप्र कांग्रेस सलाहकार परिषद एवं रणनीतिक ग्रुप के सदस्यों ने कहा कि उप्र सरकार हर मुद्दे पर विफल है। (एजेंसी)