evil-spirit

    छतरपुर.  मध्यप्रदेश के (Madhya Pradesh ) के छतरपुर (Chatarpur) जिले से आ रही एक बड़ी खबर के अनुसार यहाँ के एक गांव भूत प्रेत और अनहोनी घटनाओं के पूरी तरह खाली हो गया है। जी हाँ इस गाँव में लगातार हो रही अप्रिय घटनाओं के कारण यहाँ के लोग पलायन कर गए हैं। हालांकि अब इस बात में कितनी सच्चाई है, इसकी पुष्टि कम से कम हम तो नहीं कर पारहे हैं । लेकिन इस गांव के लोगों का ये कहना है कि गांव में भूत प्रेत और असंतृप्त आत्माओं का डेरा लगा हुआ है। इसीके चलते अब ये पूरा का पूरा गांव ही खाली हो गया।

    दरअसल छतरपुर जिले से लगभग 40 किलोमीटर दूर एक छोटा सा गांव ‘चौका’ 15 साल पहले तक पूरी तरह से आबाद था। इस गांव के अंदर लगभग 100 के लगभग मकान बने हुए थे। गांव की आबादी भी लगभग 400 के आसपास ही रही होगी। वैसे तो यहाँ सब कुछ ठीक ठाक ही चल रहा था, लेकिन फिर अचानक गांव में लोगों को अनजान और डरावने साए दिखने लगे। फिर गांव में रहने वाले लोग भी बीमार होने लगे। वहीं कई लोगों की मौत भी हो गई। जिसके चलते पूरा ला पूरा गाँव ही खाली होने लगा।

    इसके बाद गांव की महिलाएं भी अजीब सी हरकतें करने लगी थी। फिर बच्चों से लेकर गांव में रहने वाले जवान लोग भी अब बीमार हो रहे थे। ऐसे में यहाँ के लोग लोग समझ नहीं पा रहे थे कि अचानक गांव के लोगों को ऐसा क्या हो गया है। फिर देखते ही देखते पूरा गांव खाली हो गया। ऐसे में आज भी ग्रामीण इस गांव में आने से बहुत कतराते हैं। इस्क्के साथ ही इन लोगों के मन से डर खत्म नहीं हुआ है।

    आज ये भरा पूरा गांव पूरी तरह से खंडहर में तब्दील हो चूका है।कभी इस गांव में रहे लोगों का कहना है कि अब गांव में सिर्फ 4 लोग ही रहते हैं। वह भी सिर्फ बुजुर्ग जिनकी उम्र अब 70 से अधिक है। लोग एक-एक करके पलायन कर गए लेकिन न तो गांव में जिला प्रशासन का कोई अधिकारी आया और न ही किसी ने यह जानने की कोशिश की कि आखिर गांव के लोग ऐसे क्यों गांव छोड़कर भाग रहे हैं। अजीब बात ये है कि इस गांव में न ही कोई सरकार RI और न ही किसी पटवारी ने यहाँ अपनी सूरत दिखाई।