Oxygen crisis deepens amid rising corona cases in Indonesia, calls for supplies from other countries including Singapore, China
प्रतीकात्मक तस्वीर

    जकार्ता: इंडोनेशिया (Indonesia) में कोरोना वायरस (Corona Virus) संक्रमण की विनाशकारी लहर ने देश में ऑक्सीजन (Oxygen) का संकट पैदा कर दिया है और वहां की सरकार सिंगापुर (Singapore) और चीन (China) समेत अन्य देशों से आपूर्तियों की गुहार लगा रही है। महज दो महीने पहले तक, दक्षिणपूर्वी एशियाई देश ऑक्सीजन के संकट से जूझ रहे भारत के लिए हजारों टैंकर देकर उसकी मदद कर रहा था।

    इंडोनेशिया की वैश्विक महामारी कार्रवाई के प्रभारी मंत्री लुहुत बिन्साप पंडजैतन ने बताया कि शुक्रवार को सिंगापुर से 1,000 से अधिक ऑक्सीजन सिलेंडरों, सांद्रकों,वेंटिलेटरों और अन्य स्वास्थ्य उपकरणों की खेप देश पहुंची। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया से भी 1,000 वेंटिलेटर यहां पहुंचे। पंडजैतन ने कहा कि दान में मिली इन आपूर्तियों के अलावा, इंडोनेशिया पड़ोस के सिंगापुर से 36,000 टन ऑक्सीजन और ऑक्सीजन उत्पन्न करने वाले 10,000 सांद्रक खरीदने की योजना बना रहा है।

    उन्होंने कहा कि वह चीन और संभावित ऑक्सीजन स्रोतों के संपर्क में हैं। अमेरिका और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने भी मदद की पेशकश की है। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी ने कहा, “हम कोविड के मामले बढ़ने के साथ मुश्किल हालातों में घिरे इंडोनेशिया की स्थिति को समझते हैं।” उन्होंने कहा कि टीके भेजने के अलावा, अमेरिका व्यापक कोविड-19 राहत प्रयासों में इंडोनेशिया को दी जाने वाली मदद बढ़ाने के लिए काम कर रहे हैं।

    कुल मिलाकर, दुनिया के चौथे सबसे ज्यादा आबादी वाले देश, इंडोनेशिया में कोरोना वायरस संक्रमण के 24 लाख से ज्यादा मामले हैं और कोविड-19 से 63,760 मरीजों की मौत हुई है। समझा जाता है कि कम जांच और संक्रमितों का पता लगाने के खराब तरीकों के चलते ये आंकड़ें वास्तविक संख्या से बहुत दूर हैं। बृहस्पतिवार को, इंडोनेशिया में एक दिन में सर्वाधिक 39,000 मामलों की पुष्टि हुई थी। इंडोनेशिया के अस्पतालों में जगह नहीं बची है, जहां बीमारों के घर में या आपताकालीन देखभाल मिलने के इंतजार में दम तोड़ने के मामले बढ़ते जा रहे हैं।