मेक्सिको में निचले सदन के चुनाव के लिए रविवार को मतदान

    मेक्सिको सिटी. मेक्सिको (Mexico) में संसद के निचले सदन ‘चैम्बर ऑफ डिप्टीज’, देश के करीब आधे राज्यों के गवर्नर और कई महापौरों के चुनाव के लिए रविवार को मतदान हुआ, जिसके परिणाम तय करेंगे कि देश के राष्ट्रपति आंद्रेस मैनुअल ओपेज ओब्राडोर (Andrés Manuel López Obrador) की मोरेना पार्टी को सत्ता में बने रहने के लिए सदन में बहुमत मिलेगा या नहीं। ओब्राडोर के आलोचकों का कहना है कि ये चुनाव राष्ट्रपति को और ताकत हासिल करने से रोकने का मौका हैं। दूसरी ओर, राष्ट्रपति का कहना है कि विपक्ष में रूढ़िवादियों का दबदबा है, जो भ्रष्टाचार और फिजूलखर्च के खिलाफ उनकी मुहिम का विरोध कर रहे हैं।

    ओब्राडोर की शिकायत है कि सरकारी उद्योगों को सशक्त बनाने के उनके कुछ कड़े प्रस्तावों को अदालतों एवं स्वतंत्र नियामक एजेंसियों ने बाधित कर दिया है। ऐसे में, उनके विरोधियों को डर है कि बहुमत मिलने पर ओब्राडोर अदालतों एवं नियामक एजेंसियों को अपने अधीन करने की कोशिश कर सकते हैं। देश के कुल 32 में से 15 राज्यों के गर्वनरों और कांग्रेस के निचले सदन की सभी 500 सीटों के लिए चुनाव हो रहा है। इसके अलावा 30 राज्यों के मेयर और नगर परिषद सीटों सहित लगभग 20,000 स्थानीय पदों पर चुनाव हो रहा है।

    इन चुनाव में खड़े करीब तीन दर्जन स्थानीय उम्मीदवारों की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। विशेषज्ञों का कहना है कि आपराधिक गिरोह चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन सरकार ने कहा है कि ऐसा जरूरी नहीं है कि इन हत्याओं का संबंध चुनाव से हो। मेक्सिको में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामलों में कमी आने और करीब एक चौथाई वयस्क आबादी के टीकाकरण के बाद ये चुनाव हो रहे हैं, जो कि संक्रमण फैलने के बाद से देश में पहला सामूहिक जन आयोजन है। (एजेंसी)