कोविड मरिजों के लिए 100 अतिरिक्त बेड उपलब्ध

  • जल्द से जल्द पूर्ण होंगे काम- पालकमंत्री

अमरावती. कोरोनाबाधित मरिजों की संख्या बढने मरिजों के हाल बे हाल न हो इसलिए आयटीआय परिसर के जिला ग्रामीण विकास यंत्रणा के प्रशिक्षण केंद्र व सुपर स्पेशालिटी अस्पताल की जगह में 100 बेड की अतिरिक्त सुविधा निर्माण की गई है. उसी तरह सुरक्षितता के दृष्टि से सुपर स्पेशालिटी अस्पताल में भी स्वतंत्र मार्ग का निर्माण कार्य किया जायेगा. यह काम जल्द से जल्द पूर्ण करने के निर्देश राज्य की महिला व बालविकास मंत्री तथा पालकमंत्री एड. यशोमति ठाकुर ने दिये है.

महिला व लो रिस्क वालों की होगी व्यवस्था 

कोरोनाबाधितों के लिए तैयार किये गये अतिरिक्त सुविधाओं के उपलक्ष्य में उन्होंने औद्योगिक प्रशिक्षण केंद्र की जगह व नियोजित सडक समेत सुपर स्पेशालिटी अस्पताल में मरिजों की जांच की. इस समय जिलाधिकारी शैलेश नवाल, जिला शल्य चिकित्सक डा. श्यामसुंदर निकम, उपविभागीय अधिकारी राजपूत, तहसीलदार संतोष काकडे आदि उपस्थित थे. पालकमंत्री ने आगे कहा कि आयटीआय परिसर के प्रशिक्षण केंद्र की जगह में 60 व सुपर स्पेशालिटी अस्पताल परिसर की इमारत में 40 ऐसे कुल 100 बेड उपलब्ध कराये है. महिला मरिज अथवा लो रिस्क वाले मरिजों के लिए स्वतंत्र व्यवस्था का इस्तेमाल किया जा सकता है. 

66 लाख की निधि मंजूर

उसी तरह सुपर स्पेशालिटी में जाने के लिए स्वतंत्र सडक बनाई जा रही है. उपचार के साथ अतिरिक्त सुविधा व सडक के लिए 66 लाख रुपयों की निधी मंजूर हुई है. सुपर स्पेशालिटी में जानेवाली सडक महिला अस्पताल के नजदीक से जाता है. जिससे कोविड 19 के मरिजों को ले जाते समय अन्य मरिजों को इस बिमारी का खतरा रहने की शिकायतें प्राप्त हो रही थी. इसलिए अब कोविड अस्पताल की ओर जाने स्वतंत्र सडक बनाई जायेगी. सुरक्षितता को लेकर यह निर्णय लिया गया है.