Tiger killed a person in Gadchiroli

गोबरवाही. चिखला गांव समीप बेहरबेन वन में गौशाला है. हनुमानजी देवस्थान है. रविवार को गौशाला के चार गाय वन में चराई के लिए गई थी किंतु वह वापिस आयी ही नहीं. लोगों का कहना है कि दोपहर 12 बजे के दौरान गाय चिल्लाने व बाघ का आवाज आया था. उसके बाद देखने के लिए जाने पर झाड़िओं में गाय मृतावस्था में दिखायी दी. जिससे अंदाजा लगाया गया कि बाघ ने ही गाय का शिकार किया गया होगा. गौशाला के मालिक ने सोमवार को नाकाडोंगरी रेंज आफिस में इसकी शिकायत की.

रेंज आफिसर नीतेश धनविजय ने अपनी टीम के साथ घटनास्थल पर भेंट दी. गाय का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए पशुअस्पताल भेजा गया. धनविजय ने बताया कि गाय की शिकार बाघ या तेंदुए ने की इसकी जांच लगे हुए कैमेरे से पता चलेगा. तभी बता सकते है कि गाय की शिकार बाघ या तेंदुए ने की है. गौशाला को आर्थिक मदद देने का आश्वासन दिया. गाय की शिकार होने से गाव में दहशत का वातावरण निर्माण हुआ है. समाचार लिखे जाने तक 4 गायों में से एक गाय की शिकार हुई, किंतु 3 लापता गायों की कोई भी जानकारी नहीं मिली.