पत्नियों के सफेद झूठ, जिसे चुटकियों में पकड़ सकते हैं आप..!

पति-पत्नी में तकरार के साथ ही प्यार भी उतना ही होता है। दोनों के प्यार भरे नोकझोक में आप की पत्नी आप से कितना झूठ बोल रही है इसका पता लगाना मुश्किल होता है। पकड़े जाने के डर से पत्नियां इतना सफेद झूठ

पति-पत्नी में तकरार के साथ ही प्यार भी उतना ही होता है। दोनों के प्यार भरे नोकझोक में आप की पत्नी आप से कितना झूठ बोल रही है इसका पता लगाना मुश्किल होता है। पकड़े जाने के डर से पत्नियां इतना सफेद झूठ बोलती है की उन्हें पकड़ पाना नामुमकिन लगता है। तो आइएं जानते है कि वो कौन सा झूठ हैं, जो अक्सर पत्नियां-पतियों से बोलती है।

-आमतौर पर शॉपिंग में ज्यादा या महंगा सामान खरीदने पर उसकी सही किमत पति और घरवालों को बताने में झूठ बोलती है। ताकि उन्हें डांट न पड़ें।
 
-पत्नियां बचत करने के लिए पतियों के जेब से पैसे निकालती है। जिससे वे समय-समय पर झूठ का सहारा लेती है। हालांकि वह पैसे बुरी स्थिति के लिए जमा किए जाते है। 
 
-अधिकतर पत्नियां अपनी बीमारी को लेकर पति या घर वालों से झूठ बोलती हैं। गंभीर बीमारी होने के बावजूद छोटी बीमारी या सामान्य दर्द कहकर टाल देती है। जिससे घर के लोग परेशान ना हो।
 
-महिलाएं अक्सर अपने पति और अपने स्टेट्स को लेकर झूठ बोलती है। वह अपनी फैमिली और अपना  स्टेट्स बरकरार रखने के लिए ऐया करती है।
 
-बाहर डेट या किसी फैमिली लंच पर महिलाएं झूठ बोलकर बचती दिखती है। अपनी पसंद की डिश ऑर्डर ना करते हुए दूसरों के साथ ही एडजस्ट कर लेती हैं। अक्सर वे कम भूख का बहाना कर देती है।
 
-पत्नियों को अक्सर पतियों के फ्रेंड्स पसंद नहीं होते हैं वे पतियों के सामने या गेट-टू-गेदर में उनको बुरा या नापसंद कहने से बचती है।