File Photo
File Photo

नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने महानगर के सरकारी एलएनजेपी अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सक की कोविड-19 से मौत पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की और उनके परिवार के लिए एक करोड़ रुपये की मुआवजा राशि देने की घोषणा की। केजरीवाल ने कहा कि समाज ने एक अमूल्य योद्धा खो दिया है। सरकारी अस्पताल के 52 वर्षीय चिकित्सक कोविड-19 महामारी के उपचार के लिए ड्यूटी पर तैनात थे और रविवार को एक निजी अस्पताल के आईसीयू में उनकी मौत हो गई। केजरीवाल ने एक ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘ डॉक्टर असीम गुप्ता वरिष्ठ डॉक्टर थे और पिछले कुछ महीनों से कोविड-19 मरीजों का आईसीयू में इलाज कर रहे थे। उनके सहकर्मी उनके समर्पण की भावना और मरीजों को देखने की उनकी प्रतिबद्धता की प्रशंसा कर रहे हैं।”

मुख्यमंत्री ने बताया कि डॉक्टर की पत्नी (खुद भी डॉक्टर) भी कोविड-19 से संक्रमित हो गई थीं, लेकिन अब वह स्वस्थ हो चुकी हैं। उन्होंने कहा, ‘‘ उनके जैसे लोगों की वजह से ही हम कोविड-19 से लड़ने में सक्षम हैं। वह हमारे लिए बड़े प्रेरणास्रोत हैं और हम मानवता की सेवा की उनकी भावना के सामने नतमस्तक हैं। सम्मान के तौर पर दिल्ली सरकार डॉक्टर गुप्ता के परिवार को एक करोड़ रुपये की पेशकश करती है।” उन्होंने कहा कि यह किसी के अमूल्य जीवन के लिए छोटी राशि है। यह राशि दिल्ली सरकार द्वारा देश की जनता और दिल्ली के लोगों की तरफ से डॉक्टर द्वारा की गई सेवा के लिए दी जाएगी।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि एलएनजेपी अस्पताल के चिकित्सा निदेशक कार्यालय में डॉक्टर के सम्मान में प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया। उप राज्यपाल अनिल बैजल ने भी ट्वीट करके डॉक्टर के निधन पर शोक व्यक्त किया। उन्होंने कहा, ‘‘ एलएनजेपी अस्पताल के डॉक्टर असीम गुप्ता की मौत से दुखी हूं, जो कोविड-19 के खिलाफ लगातार अपनी सेवा दे रहे थे। वह बड़े योद्धा थे जिन्होंने अग्रिम मोर्चे पर काम कर रहे डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों को गर्व करने का अवसर दिया है। उनके परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं।”(एजेंसी)