दिल्ली विश्वविद्यालय की 51,000 से ज्यादा सीटें भरी, तीसरी कट ऑफ सूची जारी

    नयी दिल्ली: दिल्ली विश्वविद्यालय के स्नातक पाठ्यक्रमों में 51,000 से ज्यादा छात्रों ने दाखिला ले लिया है, जो विश्वविद्यालय की कुल उपलब्ध सीटों 70,000 का 74 प्रतिशत से ज्यादा है। आधिकारिक आंकड़े के अनुसार, विश्वविद्यालय में दाखिले के लिए तीसरी सूची शनिवार को जारी की जाएगी। विश्वविद्यालय पदाधिकारियों ने बताया कि पहली और दूसरी कट ऑफ सूची जारी होने के बाद विश्वविद्यालय को दाखिले के लिए कुल 1,18,878 आवेदनपत्र मिले हैं।

    शुक्रवार शाम पांच बजे तक 51,974 छात्रों ने दाखिले के लिए फीस जमा करा दी थी। शाम पांच बजे के बाद फीस जमा कराने के लिए ‘पेमेंट गेटवे’ बंद हो गया था। उन्होंने बताया कि कॉलेजों के प्रधानाचार्यों ने 10,591 आवेदनों को अभी तक मंजूरी दी है। रामजस कॉलेज के प्रधानाचार्य मनोज खन्ना ने कहा कि कॉलेज प्रशासन पूरी सावधानी बरत रहा है क्योंकि वे लोग उपलब्ध सीटों से ज्यादा छात्रों को दाखिला नहीं देना चाहते हैं।

    उन्होंने कहा, ‘‘इस साल हम एनएएसी (राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद) से मान्यता प्राप्त करने का प्रयास कर रहे हैं और हम बेहतर छात्र-शिक्षक अनुपात बनाए रखना चाहते हैं जो बहुत महत्वपूर्ण है। दूसरी कट ऑफ सूची में हमने पॉलिटिकल साइंस (ऑनर्स) के लिए कट ऑफ 100 प्रतिशत ही रखा क्योंकि सिर्फ दो सीटें बची थीं।

    पाठ्यक्रम में 31 सीटें हैं जिनके लिए हमने 33 दाखिले लिए हैं।” श्री गुरु तेगबहादुर खालसा कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉक्टर जसविन्दर सिंह ने कहा कि 820 में करीब 440 सीटें भर गयी हैं। उन्होंने कहा, ‘‘बीकॉम पाठ्यक्रम के लिए 10 छात्रों ने आवेदन दिया है। तीसरी सूची में कट ऑफ एक प्रतिशत कम होने की संभावना है।”

    पहली कट ऑफ सूची में बीकॉम के लिए 100 प्रतिशत अंक तय किए गए थे लेकिन कोई आवेदन नहीं मिलने पर दूसरी सूची मे कट ऑफ को एक प्रतिशत कम किया गया।